Australia vs India, 4th Test: Here is the reason why Sydney Test is called ‘Pink Test’
Virat Kohli (left) and Glenn McGrath (right) © Getty Images (file image)

भारतीय क्रिकेट टीम इस समय ऑस्‍ट्रेलिया में मेजबान टीम के खिलाफ चार मैचों की टेस्‍ट सीरीज खेल रही है। सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्‍ट मैच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जा रहा है।

पढ़ें: दिग्‍गजों ने सोशल मीडिया पर पुजारा, पंत और जडेजा को किया सलाम!

दोनों टीमों के लिए ये टेस्‍ट मैच कई मायनों में अहम है। भारतीय टीम यदि इस टेस्‍ट को जीत लेती है या ड्रॉ भी करा लेती है तो वो पहली बार ऑस्‍ट्रेलिया की धरती पर टेस्‍ट सीरीज जीतने में सफल हो जाएगी।

उधर, ऑस्‍ट्रेलियाई टीम इस टेस्‍ट को जीतकर सीरीज ड्रॉ कराने की सोच रही होगी। पिछले कुछ वर्षों से नए साल के दौरान सिडनी में खेले जाने वाले टेस्ट मैच का खास महत्व रहा है।

पढ़ें: ‘सिडनी टेस्ट के पहले दिन टिम पेन और तेज गेंदबाजों के बीच भ्रम की स्थिति थी’

सिडनी में पिंक टेस्ट पहली बार 2009 में खेला गया था। पहली बार ये टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेला गया था। इसके बाद से ही ये प्रथा लगातार चलती आ रही है। अब तक 10 पिंक टेस्ट मैच खेले जा चुके हैं और इस बार भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला जा रहा सिडनी टेस्ट 11वां पिंक टेस्ट मैच है। ‘पिंक टेस्‍ट’ के तीसरे दिन को ‘जेन मैक्ग्रा डे’ के नाम से जाना जाता है। इस दिन फैंस अपना इस मुहिम के प्रति अपना समर्थन दिखान के लिए गुलाबी रंग के ड्रेस पहनते हैं।

इस टेस्ट से जुटाई गई राशि को मैक्ग्रा फाउंडेशन को दिया जाता है

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज़ गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा की पत्‍नी जेन मैक्ग्रा की मौत स्तन कैंसर से हुई थी। इस टेस्ट मैच से जुटाई गई राशि को ग्लेन मैक्ग्रा फाउंडेशन को दिया जाता है।

ग्लेन मैक्ग्रा फाउंडेशन एक ऐसी संस्था है जो ऑस्ट्रेलिया में स्तन कैंसर के प्रति लोगों को जागरुक करने के साथ-साथ शिक्षा के लिए भी काम करती है। ये संस्था देशभर ब्रेस्ट केयर नर्सो को रखने के लिए पैसा जुटाती है और लोगों में इस बीमारी के बारे में जागरुकता भी बढ़ाती है।

2005 में हुई थी इस फाउंडेशन की शुरुआत

ग्लेन मैकग्रा फाउंडेशन की शुरुआत 2005 में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई पेसर और उनकी पत्नी जेन ने स्तन कैंसर से उबरने के बाद की थी। तीन साल बाद जेन का निधन हो गया और अगले वर्ष से पिंक टेस्ट से ये मैच जाना जाने लगा।

बल्‍ले पर गुलाबी रंग की ग्रिप के साथ उतरे थे कोहली

सिडनी टेस्ट के पहले दिन टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली का बल्ला और ग्‍लव्‍स नए रुप में दिखे। कोहली मैदान पर जब बल्‍लेबाजी के लिए उतरे तो उनके बल्ले पर गुलाबी रंग की ग्रिप चढ़ी हुई थी। इसके अलावा उनके ग्‍लव्‍स पर भी कुछ ऐसी ही ग्रिप थी।