Australian captain Aaron Finch underwent eye surgery
एरोन फिंच (Twitter)

ऑस्ट्रेलियाई वनडे और टी20 टीम के कप्तान एरोन फिंच ने हाल ही में आंखों की सर्जरी करवाई। हालांकि फिंच से सर्जरी से कब तक रिकवर होंगे ये वेस्टइंडीज के खिलाफ अगले महीने होने वाली सीरीज से पहले पता चल पाएगा।

34 साल सलामी बल्लेबाज ने सोमवार को कहा कि उन्होंने पहली बार पिछले साल के इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान अपनी दृष्टि को लेकर हो रही परेशानी को नोटिस करना शुरू किया था। फ्लडलाइट्स के नीचे ये समस्या और भी बढ़ रही थी लेकिन इसके बावजूद फिंच ने फरवरी-मार्च में हुआ न्यूजीलैंड का दौरा पूरा किया।

ब्रिस्बेन में मीडिया के सामने आए फिंच ने, “मैंने आईपीएल के दौरान इस पर गौर किया। एक दिन सब कुछ अचानक बदल किया और परेशानी और भी बढ़ गई।”

Ishant Sharma Finger Injury: उंगलियों में आए तीन टांके, इंग्लैंड सीरीज तक होंगे फिट

फिंच ने बताया कि उन्हें लाइट्स और गेंद के चारो ओर अजीब से धब्बे दिखने लगे थे। उन्होंने कहा, “सब कुछ धुंधला सा था, जो कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक बल्लेबाज के लिए आदर्श नहीं है। मैंने कॉन्टेक्ट (लेंस) लगाने की कोशिश की… लेकिन वो मेरी आंखों में नहीं बैठे।”

कप्तान ने आगे कहा, “हमें लगा कि न्यूजीलैंड दौरे के बाद इसे (सर्जरी) करने का सबसे सही समय होगा। ये तीन हफ्ते लंबी प्रक्रिया थी और ये बिना किसी रूकावट के पूरी हुई।”

फिंच ने सर्जरी के बाद से अब तक मैदान पर कदम नहीं रखा है, ऐसे में सेंट लूसिया में 10 जुलाई से शुरू होने वाले पांच मैच की टी20 सीरीज और उसके बाद बारबाडोस में तीन मैचों की वनडे सीरीज से पता चलेगा कि उनकी बाईं आंख की सर्जरी कितनी सफल हुई है।

उन्होंने कहा, “मैं अब गेंद को बहुत अच्छे देख पा रहा हूं। अभी मैं केवल इंडोर विकेट पर अभ्यास कर रहा हूं। मुझे लगता है कि रात के मैचों में सबसे बड़ी परीक्षा होगी, क्योंकि लाइट्स में ही मैंने अपनी नजर में कमी देखा है।”

18 सदस्यीय टीम के साथ ऑस्ट्रेलियाई स्क्वाड वेस्टइंडीज के दौरे पर रवाना होगा। हालांकि इस टीम में डेविड वार्नर, पैट कमिंस और ग्लेन मैक्सवेल जैसे बड़े नाम नहीं होंगे। चूंकि इन खिलाड़ियों ने बायो बबल में होने वाली थकान का हवाला देते हुए इस सीरीज से नाम वापस ले लिया है। वहीं कोहनी की चोट से जूझ रहे स्टीव स्मिथ भी इस दौरे का हिस्सा नहीं होंगे

फिंच ने कहा कि प्रमुख खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में ये दौरा बाकियों के लिए टी20 विश्व कप स्क्वाड में चयन के लिए अपनी दावेदारी पेश करने का मौका होगा।

कप्तान ने कहा, “लड़कों के लिए ये अक्टूबर-नवंबर में होने वाले विश्व कप स्क्वाड में अपनी जगह पक्की करने के लिए दावेदारी पेश करने का मौका होगा। अच्छे अंतरार्ष्ट्रीय प्रदर्शन को अनदेखा करना मुश्किल होता हैं।”

ऑस्ट्रेलिया टीम: एरोन फिंच (कप्तान), एश्टन एगर, वेस एगर, जेसन बेहरेनडॉर्फ, एलेक्स कैरी, डैन क्रिश्चियन, जोश हेजलवुड, मोइसेस हेनरिक्स, मिशेल मार्श, रिले मेरेडिथ, बेन मैकडरमोट, जोश फिलिप, मिशेल स्टार्क, मिशेल स्वेपसन, एश्टन टर्नर , एंड्रयू टाय, मैथ्यू वेड, एडम ज़म्पा।