ऑस्ट्रेलियाई टीम © Getty Images
ऑस्ट्रेलियाई टीम © Getty Images

जैसे-जैसे 30 जून की समयसीमा नजदीक आ रही है, वैसे-वैसे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट संकट और गहराता जा रहा है। माना जा रहा है कि 30 जून तक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और खिलाड़ियों के बीच कोई भी समाधान नहीं निकलेगा और खिलाड़ी बेरोजगार हो जाएंगे। ऑस्ट्रेलियन क्रिकेटर एसोसिएशन (एसीए) के सचिव ग्रेग डायर ने कहा, ”इस बात की पूरी संभावना है कि 30 जून तक क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और खिलाड़ियों के बीच कोई समाधान ना निकले। मेरा मानना है कि हमें अभी काफी लंबा सफर तय करना है। ये करार खिलाड़ियों के लिए बहुत जरूरी है। इस तरह के करार 5 साल में एक बार होते हैं और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को खिलाड़ियों के बारे में सोचना चाहिए।” ये भी पढ़ें: खेल मंत्री पर बयान देने के बाद फंस गए लसिथ मलिंगा, होगी कार्रवाई

हाल ही में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया खिलाड़ियों के सामने संशोधित करार लेकर आया था, जिसे खिलाड़ियों ने ठुकरा दिया। संशोधित करार पर डायर ने कहा, ”उसमें जानकारी का अभाव था। खिलाड़ियों के लिए वो नाकाफी है। हमें अभी भी खिलाड़ियों की मांगें पूरी होने का इंतजार है। इसलिए हमें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का ये प्रस्ताव मंजूर नहीं है और बोर्ड भी इस बात को बखूबी जानता है।”

आपको बता दें कि अगर बोर्ड और खिलाड़ियों के बीच 30 जून तक इस मुद्दे का कोई समाधान नहीं निकला तो 230 खिलाड़ी बेरोजगार हो जाएंगे। खिलाड़ियों ने लगभग धमकी दी है कि वो नये रोजगार तलाशेंगे और दुनियाभर की टी20 लीग खेलेंगे जिसमें दक्षिण अफ्रीका की ग्लोबल टी20 लीग भी शामिल है। इसके अलावा खिलाड़ियों ने ये भी धमकी दी है कि वो एशेज का भी बहिष्कार करेंगे।

ऑस्ट्रेलिया को अपने आगामी दौरों पर बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलनी है। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया को भारत के खिलाफ भी 5 मैचों की वनडे सीरीज खेलनी है, लेकिन खिलाड़ियों और बोर्ड के बीच विवाद के बाद इन सब दौरों पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।