Australian cricketer Marnus Labuschagne: Focus on process, not on results
मार्नस लाबुशाने (Twitter)

साल 2019 की शुरुआत में किसी ने भी नहीं सोचा होगा कि 25 साल के मार्नस लाबुशाने इस साल में ऑस्ट्रेलिया के लिए सर्वाधिक टेस्ट रन बनाने वाले बल्लेबाज बनेंगे। स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को एशेज सीरीज के दौरान लगी चोट लाबुशाने के सफल करियर की शुरुआत बनी।

साल 2019 में विराट कोहली, स्मिथ और केन विलियमसन के बाद आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में चौथे नंबर पर पहुंचे लाबुशाने केवल प्रक्रिया के बारे में सोचते हैं लेकिन परिणाम के बारे में नहीं और यही उनकी सफलता का राज है।

लाबुशाने ने साल 2019 की शुरुआत 110वें क्रम से की थी। लाबुशेन ने कहा, “मैं लगातार प्रक्रिया पर ध्यान देता हूं। परिणाम मेरी नजर में नहीं होता। मैं अब ये नहीं सोचता कि पीछे क्या हुआ है। बिल्कुल स्पष्ट नजरिए के साथ मैं मैदान पर उतरता हूं और अपना श्रेष्ठ देने का प्रयास करता हूं। इन सबसे आगे एक बात और है कि मुझे इस खेल से प्यार है।”

बतौर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर, शानदार रहा 2019: मयंक अग्रवाल

स्मिथ की जगह एशेज सीरीज खेलने के लिए ऑस्ट्रेलियाई स्क्वाड में शामिल हुए लाबुशाने ने लार्ड्स की दूसरी पारी में 59 रन बनाए और फिर घरेलू सीरीज में पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के खिलाफ मैचों में 185, 162, 143, 50, 63 और 19 रन बना चुके हैं।

उन्होंने 17 टेस्ट मैचों में 1,104 बनाए और 2019 में टेस्ट मैचों में 1,000 या उससे अधिक रन बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज बने। लाबुशाने के बाद सबसे ज्यादा 965 रन स्मिथ ने बनाए हैं।