बांग्‍लादेश की टीम के सीनियर गेंदबाज मशरफे मुर्तजा (Mashrafe Mortaza)  ने यह साफ कर दिया है कि जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ आखिरी वनडे मुकाबले के बाद वो 50 ओवरों के क्रिकेट में कप्‍तानी छोड़ देंगे. जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ मैच से एक दिन पहले मीडिया से बातचीत के दौरान उन्‍होंने इस बात की घोषणा की.

मुर्तजा की कप्‍तानी में बांग्‍लादेश ने 87 मैच खेले हैं, जिसमें से टीम ने 49 मैचों में जीत दर्ज की जबकि 36 मैचों में हार झेलनी पड़ी. बताया गया कि विश्‍व कप 2023 के मद्देनजर टीम तैयार करने के मकसद से यह निर्णय लिया गया है. बांग्‍लादेश क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख नजमुल हसन द्वारा यह निर्णय लिया गया है.

पढ़ें:- INDw vs ENGw: बारिश की भेंट चढ़ा SF, भारत ने पहली बार बनाई टी20 वर्ल्‍ड कप के फाइनल में जगह

वेबसाइट क्रिकबज ने नजमुल हसन के हवाले से लिखा, “मशरफे मुर्तजा का बांग्‍लादेश की टीम में सिलेक्‍शन आगे आने वाले समय में प्रदर्शन के आधार पर लिया जाएगा.”

मशरफे मुर्तजा ने साल 2001 में बांग्‍लादेश की टीम में डेब्‍यू किया था. इसके बाद साल 2010 में उन्‍हें वनडे टीम का कप्‍तान बनाया गया था. मुर्तजा की कप्‍तानी में ही 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान बांग्‍लादेश की टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था.

पढ़ें:- SA vs AUS: मलान के शतक, लुंगी की करियर बेस्‍ट गेंदबाजी से जीता अफ्रीका, बनाई 2-0 की अजेय बढ़त

मुर्तजा अपने करियर में 219 वनडे मैच खेल चुके हैं. उन्‍होंने इस दौरान 269 विकेट निकाले. इसी तरी 36 टेस्‍ट में उन्‍होंने 78 विकेट लिए. उन्‍होंने 54 टी20 मुकाबले खेले हैं, जिसमें 42 विकेट निकाले.