Bangladesh coach steve Rhodes believes Zimbabwe series perfect preparation for Windies challenge
Steve Rhodes (File Photo) © Getty Images

बांग्‍लादेश दौरे के दौरान जिम्‍बाब्‍वे ने मेजबान टीम को पहले टेस्‍ट मैच में करारी शिकस्‍त दी। उन्‍होंने 17 साल बाद विदेशी जमीन पर कोई टेस्‍ट मैच जीता था। हालांकि सीरीज के दूसरे मैच में बांग्‍लादेश ने जीत दर्ज कर सीरीज को 1-1 से बराबरी पर खत्‍म किया। सीरीज ड्रा करने के बाद बांग्‍लादेश की टेस्‍ट टीम के कप्‍तान रहे महमूदुल्‍लाह का कहना था कि दूसरा टेस्‍ट जीतकर हम शर्मनाक स्थिति से बच गए

इस मामले में अब बांग्‍लादेश के कोच स्‍टीव रोड्स का बयान आया है। जिम्‍बाब्‍वे के बाद अब बांग्‍लादेश को अपने घर में वेस्‍टइंडीज की चुनौती से निपटना है। रोड्स ने कहा, “दोनों ही टेस्‍ट मैच में जिम्‍बाब्‍वे से हमें करारी टक्‍कर मिली। कुछ लोगों को 1-1 से सीरीज ड्रॉ होने पर थोड़े हैरान जरूर हुई होंगी, लेकिन मुझे लगता है कि जिम्‍बाब्‍वे के दौरे से हमें काफी कुछ सीखने को मिला है। वेस्‍टइंडीज के दौरे के दौरान हमें इसमें मदद मिलेगी क्‍योंकि वो जिम्‍बाब्‍वे के मुकाबले मजबूत टीम है।”

उन्‍होंने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, “मीरपुर मैच के नतीजे से मैं काफी खुश हूं, लेकिन जैसा अापने कहा हमें 1-1 से बेहतर नतीजों की उम्‍मीद थी। पहला मुकाबला हारने के बाद हम ये सुनिश्चित करना चाहते थे कि सीरीज बराबरी पर खत्‍म हो।”

स्‍टीव रोड्स ने कहा, “चोटिल जेसन होल्‍डर की गैर मौजूदगी से वेस्‍टइंडीज को नुकसान होगा। हम वेस्‍टइंडीज के खिलाफ सीरीज में सकारात्‍मक सोच के साथ उतरेंगे। वो एक मजबूत टीम हैं। हमने जुलाई में उनके खिलाफ क्रिकेट खेला है, लेकिन बांग्‍लादेश में कंडीशन अलग हैं।”

इस सीरीज में शाकिब अल हसन चोट के बाद वापस टीम में लौट रहे हैं जबकि चोटिल तमीम इकबाल वापसी नहीं कर पाएंगे। चोट के कारण जेसन होल्‍डर भी वापस देश लौट रहे हैं।