Bangladesh vs Afghanistan, Only Test: Could have made more runs if we had applied better, says Shakib al Hasan
शाकिब अल हसन (IANS)

अफगानिस्तान टीम को 342 के स्कोर पर ऑलआउट करने के बाद चटगांव टेस्ट में बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश टीम 205 रन पर ढेर हो गई। मेजबान टीम की ओर से मोमिनुल हक ने सर्वाधिक 52 रन बनाए। ये आंकड़ा शायद सीमित ओवर फॉर्मेट मैच में अच्छा लगता लेकिन टेस्ट क्रिकेट में नहीं। कप्तान शाकिब अल हसन का भी यही मानना है। उन्होंने कहा कि अगर बल्लेबाज खुद को बेहतर तरीके से लागू कर पाते तो शायद टीम और ज्यादा रन बना सकती थी।

दूसरे दिन का खेल खत्म होने पर शाकिब ने कहा, “मैं ये नहीं कहूंगा कि पिच बल्लेबाजी के लिए मुश्किल थी क्योंकि जिस तरह से मोसादेक और तैजुल ने बल्लेबाजी की, उन्होंने साबित किया कि रन बनाना संभव है। अगर हमने खुद को सही से लागू किया होता तो हम और रन बना सकते थे।”

सुनील नरेन के आगे फेल हुए गेल; ट्रिनबागो नाइट राइडर्स ने जमैका तलावाह्स को हराया

मोसादेक होसेन ने 82 गेंदो पर नाबाद 48 रनों की पारी खेली। वहीं सलामी बल्लेबाज लिटन दास ने 66 गेंदो पर 33 रन बनाए लेकिन खराब शॉट खेलकर अफगानिस्तान के कप्तान और स्टार स्पिनर राशिद खान के ओवर में बोल्ड हुए। उनके बारे में कप्तान ने कहा, “लिटन स्पिन अच्छा खेलता है, साथ ही वो (अफगान टीम) नई गेंद के साथ एक ऑफस्पिनर से लंबा स्पेल करवा रहे थे। हमारे शीर्ष क्रम में तीन या चार बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं, इसलिए मैंने सोचा कि मिश्रण करना सही रहेगा। मेरा मानना है कि हम आंशिक रूप से सफल रहे, चूंकि उसने (मोहम्मद) नबी भाई को अच्छे से संभाला। वो दाएं हाथ के बल्लेबाज के मुकाबले बाएं हाथ के बल्लेबाजों के खिलाफ ज्यादा सफल हैं।”

लिटन के साथ साथ मोमिनुल भी उन बल्लेबाजों में जिन्होंने खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवाया। मोमिनुल नबी के ओवर में बाहर जाती गेंद को खींचकर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में मिड ऑन पर असगर अफगान को कैच दे बैठे।

कप्तान ने आगे कहा, “मोमिनुल तेजी से रन बना रहे थे। इसलिए मैं ये नहीं कहूंगा कि वो उस शॉट को खेलने से बच सकते थे। वो उसे और अच्छे से खेल सकते थे ताकि अगर वो छक्का ना होता तो भी चौका जरूर होता।”

एरोन फिंच ने कहा- कप्तान पद से हटने के बाद आजाद हुए हैं स्टीव स्मिथ

बांग्लादेशी बल्लेबाजी क्रम के इस तरह के बिखरने के पीछे राशिद खान की अहम भूमिका रही। अफगानी कप्तान ने 19.5 ओवर में 55 रन देकर शानदार पांच विकेट हॉल लिया। शाकिब ने माना कि बांग्लादेशी बल्लेबाजों को राशिद की गति की वजह से उनके खिलाफ खेलने में मुश्किल हुई।

बांग्लादेशी कप्तान ने कहा, “राशिद की गेंदबाजी में हल्की गति है और विकेट धीमा था इसलिए वो काफी प्रभावी साबित हुआ। रियाद और लिटन जैसे बल्लेबाजों ने उसे बैकफुट से खेलने की कोशिश की और गेंद को मिस कर गए। गेंद नीची थी, जिस वजह से तिरछे बल्ले से शॉट खेलने मुश्किल हो रहा था।”