मेहदी हसन  © Getty Images
मेहदी हसन © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ढाका टेस्ट में शानदार गेंदबाजी कर 3 विकेट लेने वाले बांग्लादेशी स्पिनर मेहदी हसन का कहना है कि 300 रनों की बढ़त हासिल कर बांग्लादेश मेहमान टीम को कड़ी चुनौती दे सकती है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक बांग्लादेश मैच में 88 रनों से आगे है। हसन का मानना है कि ढाका की पिच पर चौथे और पांचवें दिन बल्लेबाजी करना और कठिन हो जाएगा, ऐसे में 300 रन की बढ़त उन्हें जीत की ओर ले जा सकती है।

हसन ने कहा, “मेरा मानना है कि 300 रनों की बढ़त विपक्षी टीम के लिए बढ़िया चुनौती होगी। हमने 260 रन बनाए और उन्हें इससे कम के स्कोर पर ऑल आउट कर दिया। हमारे पास कई अच्छे बल्लेबाज हैं, अगर उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया तो भी हम उनके खिलाफ लड़ सकते हैं।” हसन ने ये माना कि विकेट बल्लेबाजी के लिए मुश्किल जरूर है लेकिन यहां बल्लेबाजी करना असंभव नहीं है। उन्होंने कहा, “मुझे नहीं लगता कि विकेट उतना मुश्किल है। जब गेंद को अतिरिक्त टर्न मिलने लगे तो ऐसे समय में यहां खेलना मुश्किल होगा। जब सही जगह गेंद कराई जाएगी तो कभी टर्न मिलता है और कभी गेंद सीधी निकल जाती है। बल्लेबाजी करते समय आपको सतर्क रहना होता है। हमारे पास ऐसे बल्लेबाज हैं जो इस स्थिति में खेल सकते हैं।” [ये भी पढ़ें:बांग्लादेश बनाम ऑस्ट्रेलिया, पहला टेस्ट: दूसरे दिन का खत्म होने तक मेजबान टीम 88 रनों की बढ़त पर]

बांग्लादेश ने पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया को 217 रन पर समेट दिया। बांग्लादेशी गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बारे में हसन ने कहा, “ये सभी गेंदबाजों के साझे प्रयास का नतीजा था। शाकिब भाई ने जबरदस्त गेंदबाजी की। मैने भी थोड़ा योगदान दिया, साथ ही तैजुल और मुस्ताफिज ने भी कमाल की गेंदबाजी की। हालांकि उन दोनों को विकेट नहीं मिली लेकिन उन्होंने रन बचाए।” सीरीज शुरू होने से पहले शाकिब अल हसन ने बयान दिया था कि बांग्लादेश को उनके घर पर हराना नामुमकिन है, अब ऑस्ट्रेलिया के लिए ये बात सच हो रही है। पहले टेस्ट की शुरुआत से ही बांग्लादेशी टाइगर्स कंगारुओं पर भारी पड़ रहे हैं।