ऑस्ट्रेलिया टीम © Getty Images (File Photo)
ऑस्ट्रेलिया टीम © Getty Images (File Photo)

बांग्लादेश के हाथों पहले टेस्ट में हार झेलने के बाद मेहमान टीम ऑस्ट्रेलिया पर क्लीन स्वीप का खतरा मंडराने लगा है क्योंकि यह सीरीज दो मैचों की है। ऐसे में चिटगांव में खेले जाने वाले दूसरे टेस्ट में वे हर हालत में हार को अपने रास्ते में नहीं आने देना चाहेंगे। क्योंकि अगर ऐसा हो गया तो ऑस्ट्रेलिया की टेस्ट में रैंकिंग 29 सालों में सबसे खराब हो जाएगी। इस हार के साथ वह टेस्ट रैंकिंग में छठवें नंबर पर खिसक जाएंगे। यह साल 1988 के बाद उनकी सबसे खराब टेस्ट रैंकिंग होगी।

इस परिस्थिति के बारे में कप्तान स्टीवन स्मिथ ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से बातचीत की और कहा, “मुझे नहीं पता कि हम इस समय भारत के खिलाफ सीरीज से बेहतर परिस्थिति में हैं। यह एक कठिन परिस्थिति है। मुझे लगता है कि हम अभी भी युवा टीम हैं। जाहिरतौर पर कुछ खिलाड़ी जो पिछले साल गर्मियों में आए थे और कुछ खिलाड़ी अभी भी अपनी फॉर्म को तलाशने में लगे हुए हैं। हम युवा टीम हैं, हम वह टीम हैं जो आशा करती है सुधार जारी रहेगा। हमें अभी भी रैंकिंग बेहतर करने के लिए लंबा रास्ता तय करना है। उम्मीद करते हैं कि एक ग्रुप के तौर पर हम लगातार सुधार करें और बेहतर हों।”

[ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया को हराने के लिए बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने देखे थे इन भारतीय खिलाड़ियों के वीडियो]

इसी बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के एक्जिक्यूटिव जनरल मैनेजर ऑफ हाई परफॉर्मेंस, पैट होवार्ड ने इस परिस्थिति के बारे में अपनी राय रखते हुए कहा, “हम सभी फॉर्मेटों में नंबर 1 बनना चाहते हैं। दोनों महिला और पुरुष क्रिकेट में।”

मौजूदा टेस्ट रैंकिंग्स

1) भारत – 125

2) दक्षिण अफ्रीका – 110

3) इंग्लैंड – 102

4) न्यूजीलैंड – 97

5) ऑस्ट्रेलिया – 94

6) पाकिस्तान – 93

7) श्री लंका – 90

8) बांग्लादेश – 79

9) वेस्ट इंडीज – 79