Bangladesh vs Zimbabwe: No point of playing Test cricket like this, says Mahmudullah after 151-run defeat
Mahmudullah © AFP

बांग्‍लादेश को अपने ही घर में जिम्‍बाब्‍वे के हाथों 151 रनों से टेस्‍ट मैच में हार का सामना करना पड़ा। लगातार बुरे दौर से गुजर रही जिम्‍बाब्‍वे की टीम पांच साल बाद कोई टेस्‍ट मैच जीत पाई है। अपने देश से बाहर जिम्‍बाब्‍वे ने 17 साल बाद टेस्‍ट मैच जीता है।

हार के बाद बांग्‍लादेश के कप्‍तान महमूदुल्लाह ने कहा, “हम टेस्‍ट क्रिकेट की काफी कद्र करते हैं। हमारे गेंदबाजों ने अच्‍छा प्रदर्शन किया, लेकिन बल्‍लेबाजों ने अपनी जिम्‍मेदारी ठीक से नहीं निभाई। हम वनडे में अच्‍छे लय के साथ खेल रहे हैं। हम टेस्‍ट में इसे बरकरार नहीं रक सके। हमने पिछले पांच छह पारियों से टेस्‍ट क्रिकेट में रन नहीं बनाए हैं। ये हमारे लिए वास्‍तव में चिंता का विषय है। अगर भविष्‍य में भी हम ऐसा ही करते रहे तो मुझे नहीं लगता कि हम अच्‍छी स्थिति में होंगे। हमें वापसी करनी ही होगी। अन्‍यथा हमारे लिए टेस्‍ट क्रिकेट खेलने का अब कोई मतलब नहीं रह गया है।”

कप्‍तान ने कहा, “हमारे बल्‍लेबाजों ने लापरवाही भरे शॉट खेले। हमें ये समझना ही होगा कि किस तरह की गेंद पर हमें कैसा शॉट लगाना है। हम उपर से लेकर निचले क्रम तक छोटी साझेदारी भी नहीं बना पा रहे हैं। अगर हम छोटी-छोटी साझेदारी बनाने में कामयाब रहे तो आप एक अलग ही बांग्‍लादेशी टीम को अपने सामने पाएंगे।”

जिम्‍बाब्‍वे की टीम अगले साल होने वाले वनडे विश्‍व कप के लिए भी क्‍वालिफाई नहीं कर पाई है। पिछले कुछ समय से उसे लगातार सीरीजों में हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में इस जीत के बाद अब जिम्‍बाब्‍वे के हौसले बुलंद हैं।