BCCI ACU files FIR against two for approaching Indian women cricketer for match-fixing during England series
indian-women-team

भारत और इंग्‍लैंड की महिला टीमों के बीच क्रिकेट सीरीज के दौरान मैच फिक्सिंग का प्रयास करने का मामला सामने आया है। बीसीसीआई की भ्रष्‍टाचार निरोधक शाखा ने इस संबंध में बेंगलुरू के अशोक नगर थाने में राकेश बाफना और जितेंद्र कोठारी नामक दो युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

पढ़ें:- नए मुख्‍य चयनकर्ता और कोच मिस्‍बाह उल हक ने लिया पहला कड़ा फैसला

स्‍पोर्ट्स स्‍टार की खबर के मुताबिक बाफना ने भारतीय महिला टीम की एक बड़ी खिलाड़ी को संपर्क किया। इस खिलाड़ी को मैच फिक्सिंग में शामिल होने के लिए बड़ी रकम देने का ऑफर दिया गया। भारतीय खिलाड़ी से फरवरी में इंग्‍लैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान संपर्क किया गया था। ये सीरीज आईसीसी की वर्ल्‍ड चैंपियनशिप का हिस्‍सा थी।

बीसीसीआई की भ्रष्‍टाचार निरोधक शाखा के अध्‍यक्ष अजीत सिंह ने स्‍पोर्ट्स स्‍टार से कहा, “आज हमने बेंगलुरू में दो युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। यह एफआईआर हमारी एक महिला खिलाड़ी को मैच फिक्सिंग के लिए संपर्क करने के संबंध में है। इस खिलाड़ी ने ऑफर देने वाले शख्‍स से बातचीत को रिकॉर्ड कर लिया था और हमें इसकी शिकायत दी थी।”

पढ़ें:- TNPL में भ्रष्‍टाचार के आरोपों पर BCCI ने शुरू की जांच

कोठारी नामक शख्‍स ने इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से खुद को स्‍पोर्ट्स मैनेजर बताते हुए महिला क्रिकेटर को संपर्क किया। “कोठारी ने ही बाफना का महिला क्रिकेटर से ब्रैंड प्रमोशन के नाम पर परिचय कराया था। बाद में बाफना ने मैच फिक्स करने की पेशकश की।”

रिपोर्ट्स के मुताबिक क्रिकेटर को हर मैच को फिक्‍स करने के लिए एक लाख रुपये देने की पेशकश की गई।