BCCI asked ICC for permission to wear Army cap in Ranchi ODI: Report
Indian cricket team (AFP)

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने भारतीय खिलाड़ियों के ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में विशेष आर्मी कैप पहनने के लिए आईसीसी से अनुमति ली थी। दरअसल पाकिस्तान के कुछ मंत्रियों ने रांची वनडे में भारतीय क्रिकेटरों के आर्मी कैप पहनने पर ऐतराज जताया है और विराट कोहली की टीम पर खेल को राजनीति से मिलाने का आरोप लगाया है।

रांची के जेएससीए स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए तीसरे वनडे के दौरान महेंद्र सिंह धोनी, जो कि इस पहल के पीछे बड़ी भूमिका में थे, उन्होंने सभी खिलाड़ियों को खेल शुरू होने से पहले भारतीय सेना के सम्मान में खास तौर से तैयार की गई कैप दी थी। खिलाड़ियों ने अपनी मैच फीस भी पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों के परिवार वालों के समर्पित की।

ये भी पढ़ें: रांची वनडे में मिलिट्री कैप में नजर आई टीम इंडिया, धोनी ने दी कैप

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने तीसरे वनडे मैच में आर्मी कैप पहनने के भारतीय क्रिकेट टीम के फैसले पर निराशा जाहिर की है। उनका कहना है कि ये खेल में राजनीति करने की कोशिश है जिसके खिलाफ आईसीसी को कदम उठाना चाहिए। लेकिन टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक बीसीसीआई ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल से अनुमति लेने के बाद ही इस पहल की शुरुआत की। बीसीसीआई की योजना इस पहल को आगे बढ़ाने की है, जिसके तहत साल में एक बार भारत में होने वाले वनडे मैच में इसे दोहराया जाएगा।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान ने सेना की कैप पहनने के लिए आईसीसी से भारत के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

आईसीसी के सूत्रों के मुताबिक, “भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने गुरुवार को आईसीसी के सीईओ डेव रिचर्डसन से अनुमति मांगी थी कि खिलाड़ियों को चैरिटी फंड जुटाने के प्रयास में भाग लेने दें और पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों की याद में बीसीसीआई लोगो वाली खास आर्मा कैप पहनें।”