bcci is not happy with players attitude in england avoiding instructions covid

इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंगम में इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें और अहम टेस्ट मैच से पहले भारत को एक कड़ा झटका लगा। कप्तान रोहित शर्मा के कोविड-19 संक्रमित होने की खबर आई। इससे उनके सीरीज के पांचवें मैच में खेलने पर संदेह पैदा हो गया।

भारत के इंग्लैंड दौरे 2022 के लिए कोई बायो-बबल नहीं है लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने खिलाड़ियों को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने की सलाह दी है। हालांकि ऐसा लग नहीं रहा कि खिलाड़ी बोर्ड की सलाह को गंभीरता से ले रहे हैं। अब जब रोहित शर्मा पॉजिटिव पाए हैं, बोर्ड खिलाड़ियों की लापरवाही पर काफी नाराज है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बोर्ड ने खिलाड़ियों के इस रवैये के लिए उनकी आलोचना भी की है।

समाचार एजेंसी एएनआई ने बीसीसीआई के एक सूत्र के हवाले से लिखा, ‘बोर्ड ने कुछ खिलाड़ियों को खुले में घूमने की उनकी आदत के लिए फटकार लगाई है। ऐसा भी सामने आया है कि कुछ खिलाड़ियों ने फैंस के साथ तस्वीरें भी खिंचवाई। जो वाकई खतरनाक हो सकता है। हमने उन्हें सावधान रहने के लिए कहा था लेकिन इसके बाद भी वे शहर में घूमते रहे जिसकी जरूरत नहीं थी। तो हमने दोबारा उन्हें सावधानी बरतने के लिए कहा है।’

इस बीच रोहित शर्मा का कोविड पॉजिटिव होना टीम इंडिया के लिए परेशानी का सबब है। उम्मीद तो की जा रही है कि रोहित टेस्ट मैच शुरू होने से पहले रिकवर हो जाएंगे लेकिन क्या वह मैच फिट हो पाएंगे इस पर बड़ा सवाल है। बीसीसीआई भी इससे वाकिफ है तभी उसने मयंक अग्रवाल को रोहित के बैकअप के लिए भेजा है।

बीते साल भारत ने जब इंग्लैंड में कामयाबी हासिल की थी तो उसमें रोहित शर्मा और केएल राहुल की शानदार साझेदारी भी एक कारण थी। इन दोनों सलामी बल्लेबाजों ने भारत को मजबूत शुरुआत दी थी।