BCCI seeks 15 cr legal fee from Pakistan Cricket Board

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल में भारत के खिलाफ केस हारने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर दोहरी मार पड़ी है। बीसीसीआई से तकरीब साढ़े चार सौ करोड़ रुपए का हर्जाना वसूलने का सोच रही पीसीबी के खिलाफ बीसीसीआई ने 15 करोड़ के हर्जाने का दावा ठोका है।

पिछले महीने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आईसीसी की अदालत में पीसीबी का दावा बीसीसीआई के खिलाफ खारिज कर दिया गया था। अब बीसीसीआई ने पीसीबी के खिलाफ 15 करोड़ के हर्जाने का दावा ठोका है। यह दावा पाकिस्तान द्वारा किए गए मुकदमें में हुए लीगल खर्च को लेकर किया गया है।

पढ़ें: – ”PCB को द्विपक्षीय क्रिकेट की जरूरत, BCCI की इच्छा नहीं”

मुंबई मिरर की खबर के मुताबिक आईसीसी की डिस्प्यूट रिजॉल्यूशन कमेटी में बीसीसीआई ने पीसीबी के खिलाफ केस को लड़ने में किए गए 15 करोड़ के खर्च की मांग की है। बीसीसीआई ने एक पत्र लिखकर पीसीबी से 15 करोड़ रुपए की वसूलने की मांग की है।

गौरतलब है पीसीबी ने बीसीसीआई पर आरोप लगाया था कि पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साथ भारतीय टीम के बाइलेटरल सीरीज नहीं खेलने की वजह से उनको करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है। पीसीबी चाहता था उसके नुकसान की भरपाई बीसीसीआई करे जिसे आईसीसी ने सही नहीं माना। इस मामले में पाकिस्तान की दलील को सही नहीं पाते हुए आईसीसी ने फैसला बीसीसीआई के हक में दिया था।

पढ़ें: – भारत के खिलाफ ICC में हमारा मुकदमा था कमजोर

गौरतलब है भारत और पाकिस्तान की टीमें आईसीसी या दूसरे टूर्नामेंट में एक दूसरे के साथ खेलती हैं लेकिन आपस में सीरीज नहीं खेलती। हाल ही में एशिया कप में दोनों टीमों के बीच दो मुकाबला खेला गया था। भारत ने पाकिस्तान से दोनों मुकाबला जीता था। अगले साल इंग्लैंड में होने वाले आईसीसी विश्व कप में भी दोनों टीमों के बीच मैच खेला जाना है।