Breaking News

    बीसीसीआई ने अपने अध्यक्ष को हितों के टकराव का नोटिस जारी किया

    बीसीसीआई ने अपने अध्यक्ष को हितों के टकराव का नोटिस जारी किया

    शिकायतकर्ता का आरोप है कि बिन्नी का हितों का टकराव है क्योंकि उनकी बहू स्टार स्पोर्ट्स के लिए काम करती है जिसे भारतीय क्रिकेट के घरेलू सत्र के मीडिया अधिकार हासिल हैं.

    Updated: November 29, 2022 9:13 PM IST | Edited By: Akhilesh Tripathi
    भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के आचरण अधिकारी विनीत सरन ने बोर्ड के अध्यक्ष रोजर बिन्नी को हितों के टकराव का नोटिस भेजा है. पीटीआई को पता चला है कि सरन ने बिन्नी को उनके खिलाफ हितों के टकराव के आरोपों के मामले में 20 दिसंबर तक लिखित जवाब देने को कहा है. शिकायतकर्ता संजीव गुप्ता ने आरोप लगाया है कि बिन्नी का हितों का टकराव है क्योंकि उनकी बहू मयंती स्टार स्पोर्ट्स के लिए काम करती है जिसे भारतीय क्रिकेट के घरेलू सत्र के मीडिया अधिकार हासिल हैं. सरन ने 21 नवंबर को जारी नोटिस में कहा कि आपको सूचित किया जाता है कि बीसीसीआई के आचरण अधिकारी को बीसीसीआई के नियम 38 (1) (एक) और नियम 38 (2) के उल्लंघन को लेकर शिकायत मिली है जो आपके हितों के टकराव से जुड़े हैं. इसके अनुसार आपको निर्देश दिया जाता है कि शिकायत पर अपनी लिखित प्रतिक्रिया 20 दिसंबर 2022 को या इससे पहले दें. इस प्रतिक्रिया के समर्थन में हलफनामा भी दायर किया जाना चाहिए. विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे बिन्नी अक्टूबर में बीसीसीआई के 36वें अध्यक्ष बने. उन्होंने पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की जगह ली. बिन्नी ने भारत के लिए 27 टेस्ट और 72 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच खेले. इनपुट- पीटीआई भाषा 
    Advertisement