कोविड-19 महामारी के कारण इस समय भारत में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया हैं. कोरोनावायरस महामारी के कारण दुनिया भर में अब तक 30 लाख लोगों की मौत हो चुकी है जबकि भारत में इसकी संख्या 24 तक पहुंच गई है. भारत में इससे संक्रमित मरीजों की संख्या एक हजार से अधिक हो गई है वहीं दुनिया भर में लगभग 7 लाख लोग इससे संक्रमित हैं. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने देशवासियों से घरों में रहने की अपील की है. बोर्ड ने इसके लिए भारतीय टेस्ट विशेषज्ञ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा का उदाहरण दिया है. बीसीसीआई ने सोशल मीडिया ट्विटर पर पुजारा का एक फोटो अपलोड किया है, जिसमें उसने लिखा है, ‘पुजारा परिवार की तरह आप भी अपने अपने घरों में ही रहें.’

लॉकडाउन से मिले ब्रेक का इस्तेमाल ऑस्ट्रेलिया दौरे की तैयारी के लिए कर रहे हैं हनुमा विहारी

भारतीय टीम के भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने इससे पहले कहा था कि लॉकडाउन के दौरान उनका आधा समय तो बेटी की देखभाल में ही गुजर जाता है.

कोरोना से लड़ने के लिए भारत सरकार ने पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन कर रखा है और इस दौरान पुजारा सहित सभी क्रिकेटर अपने अपने तरीके से घर पर वक्त बिता रहे हैं.

पुजारा ने कहा था, ‘मेरे लिए यह बदलाव स्वागत योग्य है. मैं इन दिनों खुद के साथ समय बिता रहा हूं. जब भी मैं अकेला होता हूं तो किताब पढ़ने और टीवी देखना पसंद करता हूं.’

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने वीवीएस लक्ष्मण की इस पारी को सर्वकालिक पसंदीदा पारियों में से एक बताया

उन्होंने कहा, ‘मेरे पास एक बेटी है जो हमेशा ही खेलने के लिए काफी उत्साह से भरी रहती है. मेरा अधिकतर समय तो बेटी की देखभाल में ही गुजर जाता है. मैं रोज के काम में पत्नी का हाथ भी बंटा रहा हूं.’ पुजारा ने सभी देशवासियों से घरों में ही रहने की अपील की और कहा कि उन्हें किसी से भी हाथ नहीं मिलाना चाहिए.

कोरोनावायरस के कारण इस समय दुनिया में सभी खेल प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी गई हैं जिसमें टोक्यो ओलंपिक के साथ इंडियन प्रीमियर लीग जैसे कई टूर्नामेंट शामिल हैं. आईपीएल का आयोजन 29 मार्च से होना था लेकिन इसे अब 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया है.