Ben stokes found not guilty in Bristol Night Club affray case
ben stokes (File Photo) Getty Image

नाइट क्‍लब में मारपीट के मामले में इंग्‍लैंड के ऑलराउंडर बेन स्‍टोक्‍स को ब्रिस्‍टल की अदालत से बड़ी राहत मिली है। अदालत ने बेन स्‍टोक्‍स को इस मामले में बरी कर दिया है।

भारत और इंग्‍लैंड के बीच खेली जा रही पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज में बेन स्‍टोक्‍स केवल बर्मिंघम टेस्‍ट मैच का हिस्‍सा थे। ट्रायल की तारीखें बीच में आने के कारण बेन स्‍टोक्‍स लॉर्ड्स टेस्‍ट का हिस्‍सा नहीं बन पाए। स्टोक्‍स की जगह क्रिस वोक्‍स को टीम में जगह दी गई। तीसरे मैच में भी 13 सदस्‍यीय टीम में बेन स्‍टोक्‍स को ब्रिस्‍टल नाइट क्‍लब विवाद के ट्रायल के कारण ही जगह नहीं दी गई है।

क्या है घटना

25 सितंबर को 2017 को ब्रिस्टल के एक नाइट क्लब के बाहर नशे की हालत में बेन स्टोक्स ने मारपीट की थी। इस घटना ने रेयान हेल और रेयान अली को इतना पीटा की वो दोनों बेहोश हो गए थे। पेश मामले में अभियोजन पक्ष के वकील का कहना था कि बेन स्‍टोक्‍स ने क्‍लब में मौजूद गे कपल का मजाक उड़ाया था। इस मामले में कुल तीन लोगों को आरोपी बनाया गया था। वहीं, अदालत के सामने बेन स्‍टोक्‍स का कहना था कि वो गे कपल का मजाक नहीं उड़ा रहा था। बल्कि वो तो उनकी मदद कर रहा था।

घटना के बाद स्टोक्स पर लगी थी पाबंदी

मारपीट की घटना सामने आने के बाद इंग्लैंड क्रिकेट टीम से उनको निलंबित कर दिया गया था। निलंबन की वजह से वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज नहीं खेल पाए थे। ऑस्ट्रेलिया ने एशेज 4-0 से जीता था।