बेन स्टोक्स © Getty Images
बेन स्टोक्स © Getty Images

इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स का करियर जिस सड़क पर हुए झगड़े के कारण दो राहे पर आ गया है उसको लेकर एक नई बात सामने आई है। दरअसल उस झगड़े में शामिल रहे एक गे कपल ने दावा किया है कि स्टोक्स ने झगड़ा शुरू नहीं किया था बल्कि वह गे कपल को बचाने के लिए गए थे जिसके कारण यह झगड़ा हुआ। इसके बाद से अब स्टोक्स को ‘रियल हीरो’ बताया जा रहा है। गौरतलब है कि इस घटना के कारण स्टोक्स एशेज खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया नहीं जा पाए हैं। 26 साल के स्टोक्स शनिवार को ऑस्ट्रेलिया रवाना हो रही इंग्लैंड टीम के साथ नहीं जाएंगे क्योंकि इस बात की पुष्टि होनी बाकी है कि ब्रिस्टल में नाइटक्लब के बाहर हुए झगड़े में उनपर क्रिमनल चार्ज लगेगा कि नहीं।

बहरहाल, काई बेरी और बिली ओ कोनेल ने सन को बताया कि स्टोक्स उनकी सहायता के लिए आए थे क्योंकि कुछ मौजी लोग गालियां दे रहे थे। बैरी ओ कोनेल ने बताया कि जब वे स्टोक्स और उनके टीम मेट एलेक्स हेल्स से उस शाम को मिले थे तो उन्होंने उन्हें ड्रिंक दी थी।

उन्होंने कहा, “हम स्टोक्स के बहुत आभारी हैं कि वह मदद करने के लिए आगे आए। वह रियल हीरो हैं, काई को लग रहा था के मनमौजी उन्हें पीटेंगे। अगर बेन स्टोक्स बीच में नहीं आते तो यह हमारे लिए बहुत बुरा हो सकता था।”

बेरी ने बताया कि अगर स्टोक्स बीच में न आए होते तो चीजें बहुत खराब हो सकती थीं। बेरी ने कहा, “मैं फाइटर नहीं हूं और हम लड़ाई नहीं करना चाहते। हम वास्तव में मुश्किल में पड़ सकते थे। बेन एक शरीफ व्यक्ति हैं।” बेरी ने कहा कि उन्हें इस हफ्ते के पहले पता नहीं था कि उस मामले की वजह से स्टोक्स पर इतनी मुसीबत आ गई है। इस हफ्ते हमारे यहां पुलिस आई और तब जाकर हमें पता चला।

वायु प्रदूषण के कारण रद्द हो सकता है भारत-न्यूजीलैंड पहला टी20
वायु प्रदूषण के कारण रद्द हो सकता है भारत-न्यूजीलैंड पहला टी20

ओ कोनेल ने कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि स्टोक्स ऑस्ट्रेलिया में खेलें। ओ कोनेल ने कहा, “स्टोक्स एक अच्छे व्यक्ति हैं और उम्मीद करते हैं कि वह अभी भी इंग्लैंड के लिए एशेज में खेल सकते हैं। अगर इस बात को लेकर उनका करियर खराब होता है तो ये खराब होगा। वह सिर्फ काई को बचाने की कोशिश कर रहे थे।”