Ben Stokes likely to get permission from ECB to play IPL 2018
बेन स्टोक्स पिछले आईपीएल सीजन में राइजिंग पुणे सुपरजायंट टीम में खेले थे © BCCI

इंग्लैंड के ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स की परेशानियां कुछ हद तक खत्म हो सकती है क्योंकि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड स्टोक्स को आईपीएल 2018 में खेलने की इजाजत दे सकती है। हालंकि इस पर बोर्ड ने कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है लेकिन खबरों के मुताबिक ईसीबी को स्टोक्स के भारत में आईपीएल खेलने से कोई परेशानी नहीं है। बता दें कि ब्रिस्टल में हुए मारपीट विवाद के बाद स्टोक्स एशेज सीरीज खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया नहीं जा सके थे। बोर्ड इंग्लैंड टेस्ट टीम के उप-कप्तान स्टोक्स को न्यूजीलैंड में कैंटरबरी टीम के साथ खेलने की इजाजत दे दी थी। जिसके बाद स्टोक्स के आईपीएल में शामिल होने की संभावना बढ़ गई है।

खबरें ये भी हैं कि कल न्यूजीलैंड से लौटे स्टोक्स बाकी मैचों के लिए इंग्लैंड की एशेज टीम में शामिल हो सकते हैं। इंग्लैंड पहले ही 3-0 से ये सीरीज हार चुका है, ऐसे में कप्तान जो रूट का पहला लक्ष्य अब क्लीन स्वीप से बचना होगा। स्टोक्स जो कि बेहतरीन फॉर्म में हैं, इंग्लैंड के लिए मजबूत कड़ी साबित हो सकते हैं। स्टोक्स के बारे में बात करते हुए ईसीबी के मुख्य अधिकारी टॉम हैरिसन ने कहा, “हमने उसके न्यूजीलैंड में खेलने को लेकर एनओसी की कल्पना की थी, ये कहना मुश्किल होगा कि हम दूसरे देशों में उसके खेलने के लिए यही कोशिश दोबारा नहीं करेंगे लेकिन एनओसी किसी एक टूर्नामेंट में खेलने के लिए होती है। अगर हम चाहते हैं कि बोर्ड इस फैसले में हमारा साथ दे तो हमें भी खेल का सम्मान बनाए रखने पर काम करना होगा।”

मुंबई टी20: सीरीज क्लीन स्वीप करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया
मुंबई टी20: सीरीज क्लीन स्वीप करने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

बता दें कि स्टोक्स को न्यूजीलैंड में खेलने की अनुमति ईसीबी की सब-समिति ने दी थी लेकिन भविष्य में होने वाले टूर्नामेंट में स्टोक्स के खेलने का फैसला पूरा बोर्ड लेगा। हैरिसन ने कहा कि बोर्ड के लिए ये मामला बदनामी और खेल की प्रतिष्ठा का है। हैरिसन का मानना है कि मामला खेल की बदनामी और क्रिकेट संबंधी आरोपों से जुड़ा है, जिसके लिए आपराधिक कार्यवाही होने के बाद तक इंतजार करना पड़ता है। यदि सब ठीक रहा तो 6-12 महीने के अंदर मामला सुलझ सकता है। आईपीएल 2018 के लिए खिलाड़ियों की नीलामी अगले सा 27-28 जनवरी को होनी है, अगर स्टोक्स को इस टूर्नामेंट में शामिल होना है तो बोर्ड को जल्द से जल्द फैसला लेना होगा।