बेन स्टोक्स © AFP
बेन स्टोक्स © AFP

मौजूदा समय में दुनिया के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। मारपीट के आरोप में जेल की हवा खाने के बाद अब माना जा रहा है कि स्टोक्स से उपकप्तानी का पद छीना जा सकता है। वहीं एशेज सीरीज में भी उनके खेलने पर तलवार लटकी हुई है। ये सब इसलिए हो रहा है क्योंकि हाल ही में स्टोक्स को ब्रिस्टल नाइट क्लब के बाहर 27 साल के युवक के साथ मारपीट के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद उन्हें एक रात जेल में भी गुजारनी पड़ी। हालांकि बाद में पुलिस ने उनपर बिना कोई चार्ज (घारा) लगाए छोड़ दिया लेकिन पुलिस अभी भी मामले की जांच कर रही है।

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के डायरेक्टर एंड्रयू स्ट्रॉस ने बेन स्टोक्स की गिरफ्तारी की पुष्टि की। जब स्ट्रॉस से पूछा गया कि क्या इस हादसे के बाद अब स्टोक्स को एशेज सीरीज के लिए टीम में शामिल नहीं किया जाएगा? तो इसपर स्ट्रॉस ने कोई सीधा जवाब नहीं दिया और कहा कि उन्होंने चयनकर्ताओं से उन्हीं खिलाड़ियों को चुनने को कहा है जो मौजूदा समय में फॉर्म में हों और फिट भी हों। वहीं मामले पर पुलिस ने एक बयान जारी कर कहा है कि ब्रिस्टल के बाहर एक 26 साल के युवक ने मारपीट की है। हालांकि उसे छोड़ दिया गया है लेकिन हमारी जांच अभी जारी है। ये भी पढ़ें: काउंटी क्रिकेट में आर अश्विन ने जड़ा पहला अर्धशतक, खेली 82 रनों की शानदार पारी

माना जा रहा है कि अगर स्टोक्स पर मारपीट के चार्ज साबित हो जाते हैं तो उन्हें 1 से 3 साल के लिए जेल जाना पड़ सकता है। अगर स्टोक्स पर केस चलता है तो उनके एशेज में खेलने पर तलवार लटक सकती है। आपको बता दें कि स्टोक्स ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे में मिली जीत के बाद ब्रिस्टल में कुछ लोगों के साथ झगड़ा किया और उन्हें पुलिस ने थाने में बंद कर दिया। स्टोक्स के साथ इंग्लैंड के ओपनिंग बल्लेबाज एलेक्स हेल्स भी थे और उनको भी ईसीबी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाले अगले दो मैचों के लिए टीम से निकाल दिया।