Ben Stokes: We are lucky to be involved in a home World Cup and home Ashes in the same summer
बेन स्टोक्स © Getty Images

इंग्लिश ऑलराउंडर बेन स्टोक्स पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज पर 3-0 से कब्जा करने के बाद विश्व कप अभियान के शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं।

पाकिस्तान के खिलाफ ट्रेंट ब्रिज वनडे में 71 रनों की मैचविनिंग पारी खेलने वाले स्टोक्स ने विश्व कप और एशेज की मेजबानी करने को लेकर उत्साहित हैं। उन्होंने कहा, “हम इस बारे में बात कर रहे हैं, मुझे लगता है कि ये कल रात की बात है, बतौर खिलाड़ी हम कितने खुशकिस्मत हैं कि हमें विश्व कप और एशेज एक ही साल में घर में खेलने का मौका मिल रहा है। इसके बारे में सोचना उत्साहित करता है। मैं बस इसके शुरू होने का इंतजार कर रहा हूं।”

पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज के बारे में स्टोक्स ने कहा, “हम चाहते थे कि हमारा सारा ध्यान इस सीरीज पर हो ना कि विश्व कप पर और मुझे लगता है कि हमने अच्छा काम किया। हम 4-0 से जीत दर्ज करना पसंद करेंगे लेकिन जो भी हो हेडिंग्ले (जहां सीरीज का पांचवां वनडे खेलना जाना है) के बाद सब शून्य हो जाएगा और हमारा ध्यान विश्व कप पर होना चाहिए।”

विराट कोहली-रिषभ पंत का मजाक उड़ाने पर ट्रोल हुए ब्रैड हॉज

ट्रेंट ब्रिज वनडे में स्टोक्स की पारी इंग्लैंड के काफी अहम साबित हुई। क्योंकि इस पारी के दौरान पहली बार ये देखने को मिला कि अगर उनके शीर्ष क्रम बल्लेबाजों के ज्यादा रन बनाने का उनका प्लान ए अगर असफल होता है तो भी इंग्लैंड मुश्किल हालात से निकल सकता है।

अपनी अर्धशतकीय पारी को लेकर स्टोक्स ने कहा, “रन बनाना हमेशा ही अच्छा रहता है और विश्व कप के करीब आते हुए सकारात्मक चीजें लेकर आगे बढ़ना अच्छा है। जैसा की सभी जानते हैं कि सीरीज में हमारा एक मैच जरूर खराब होता है। ये वो मैच हो सकता था लेकिन चार विकेट जल्दी खोने के बाद हमने जो आत्मविश्वास दिखाया और फिर भी मैच को खत्म किया, ये हमे महान बनाएगा। आखिर तक क्रीज पर रहने से मुझे काफी आत्मविश्वास मिला। मैं जो एक चीज करना चाहता था वो ये कि जीत की स्थिति में आने के बाद इसे खराब ना करूं।”

शॉन मार्श को सता रहा टेस्ट करियर खत्म होने का डर

बल्लेबाजी में भले ही स्टोक्स कमाल कर रहे हों लेकिन कोहनी की चोट की वजह से उनकी गेंदबाजी अब तक 100 प्रतिशत नहीं है। हालांकि स्टोक्स ने बताया कि ये कोई खास इंजरी नहीं है और जल्द ठीक हो जाएगी। उन्होंने कहा, “ये कुछ नहीं है, ज्यादा गेंद फेंकने की वजह से, मैं ये पहले भी कर चुका हूं। ये अब बेहतर है, साउथम्पटन की लंबी बाउंड्री से भी कोई मदद नहीं मिली। मैं इसे आराम दे रहा हूं।”