पंकज शॉ ने 413 रनों की नाबाद पारी में 44 चौके और 23 छक्के जड़े Photo Credit- khabar.ndtv.com/
पंकज शॉ ने 413 रनों की नाबाद पारी में 44 चौके और 23 छक्के जड़े Photo Credit- khabar.ndtv.com/

साल 2016 में भारत के युवा बल्लेबाजों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया है। भारत की ओर से खेलते हुए करुण नायर ने नाबाद तिहरा शतक बनाकर नाम कमाया तो कुछ ही दिन बाद बंगाल के बल्लेबाज पंकज शॉ ने 413 रनों की पारी खेलकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। इस पारी के साथ ही पंकज भारत की ओर से सीनियर स्तर की क्रिकेट में सबसे बड़ा स्कोर बनाने वाले छठें बल्लेबाज बन गए हैं। भारत की ओर से सबसे बड़ा स्कोर बनाने का रिकॉर्ड प्रणव धनवड़े के नाम दर्ज है। धनवडे़ ने साल 2016 की शुरूआत में यह कारनामा अंजाम दिया था।

पंकज ने रविवार को यहां बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) के तीन दिवसीय प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट में रिकार्ड नाबाद 413 रन की पारी खेलकर खुद को इतिहास के पन्नों में दर्ज करा लिया। बारिशा स्पोर्टिंग का प्रतिनिधत्व कर रहे 28 साल के पंकज ने अपनी पारी में 44 चौके और 23 छक्के लगाए। वह तीन दिवसीय कैब लीग में 400 से अधिक का स्कोर बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। बारिशा स्पोर्टिंग की टीम रविवार को दो विकेट पर 192 रन से आगे खेलने उतरी। शॉ ने 44 रन से आगे खेलते हुए अपनी पारी को नाबाद 413 के जादुई आंकड़ें तक पहुंचा दिया। [Also Read: राहुल द्रविड़ ने भारत के अच्छे प्रदर्शन के लिए की विराट कोहली और अनिल कुंबले की तारीफ]

उन्होंने अजमेर सिंह (47) के साथ छठे विकेट के लिए 203, जबकि श्रेयन चक्रवर्ती (22) के साथ आठवें विकेट के लिए 191 रनों की साझेदारी निभाई। पंकज की इस बेमिसाल पारी की बदौलत बारिशा स्पोर्टिंग ने 115 ओवर में आठ विकेट पर 708 रन बनाकर पारी घोषित की। इससे पहले दक्षिण कालीकट संसद ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे। टीम ने दूसरी पारी में दो विकेट पर 96 रन बनाए जब मैच ड्रॉ समाप्त किया गया। शॉ ने पिछले सीजन में रणजी में राजस्थान के खिलाफ आगाज किया था। पंकज ने अभी तक 12 प्रथम श्रेणी के मैच खेले हैं।