Bhuvneshwar Kumar explains How Indian pacers motivated themselves against Sri Lanka in the Eden Gardens Test
भुवनेश्वर कुमार © Getty Images

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने कोलकाता टेस्ट के चौथे दिन कहा कि पिच से गेंदबाजों को मिल रही मदद के सामने भारतीय बल्लेबाजों की परेशानी को देखकर वे ज्यादा उत्साहित हो गये, इसलिये टीम ने तीसरे दिन ज्यादा रन लुटा दिये। श्रीलंकाई टीम ने पहले टेस्ट के चौथे दिन पहली पारी में 122 रन की बढ़त ले ली जिसकी सबसे बड़ी वजह भारतीय गेंदबाजों खासकर उमेश यादव की ढीली गेंदबाजी को जाता है।

जीत के लिए पूरा जोर लगा देंगे: शिखर धवन
जीत के लिए पूरा जोर लगा देंगे: शिखर धवन

भुवनेश्वर ने गेंदबाजों की गलती मानते हुए कहा, ‘‘श्रीलंकाई गेंदबाजों के प्रदर्शन को देखकर हम इस विकेट पर गेंदबाजी करने को लेकर काफी उत्सुक थे लेकिन विकेट पूरी तरह से बदल गया। हां, हम कुछ रन जरूर रोक सकते थे। हमें थोड़ा अधिक धैर्य रखना चाहिये था। उन्होंने कहा, ‘‘हमें श्रीलंका की बढ़त को 60-70 रन के अंदर रोकना चाहिए था। मौसम में ज्यादा नमी ने हमें थका दिया और हमने कुछ खराब गेंदे फेंकी। हम इस में सुधार कर सकते थे।’’

फॉर्मेट बदलने पर हो रही परेशानी के बारे में पूछे जाने पर भुवनेश्वर ने कहा, ‘‘उमेश और शमी रणजी मैच खेलकर यहां आए है। मुझे नहीं लगता की हमें कोई परेशानी थी क्योंकि हमें सिर्फ गेंद की लंबाई और दिशा सही करनी थी। मैंने लय हासिल कर ली है और कोशिश करूंगा की आने वाले मैचों में यह कायम रहे।’’ भुवनेश्वर 88 रन पर चार विकेट लेकर भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे लेकिन कल मांसपेशियों में खिंचाव से जूझने वाले शमी ने वापसी करते हुये 100 रन देकर चार विकेट लिए।

उन्होंने कहा, ‘‘शमी कल दुर्भाग्यशाली रहे और चोटिल हो गए। उन्होंने कमाल की गेंदबाजी की, यह देखना शानदार था।’’ पहली पारी के आधार पर 122 से पिछड़ने के बाद भारतीय टीम ने दूसरी पारी में सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (94) और केएल राहुल (नाबाद 73) की 166 रन की साझेदारी के दम पर चौथे दिन का खेल खत्म होने तक 49 रन की बढ़त बना ली है।

भुवनेश्वर ने कहा, ‘‘हम ये नहीं कहेंगे कि हम अपने प्रदर्शन से हम पूरी तरह संतुष्ट है लेकिन जिस तरह विकेट पहले से बेहतर हुई उससे हम खुश है। हमारी बल्लेबाजी उसका सबूत है।’’ धवन की पारी पर उन्होंने कहा, ‘‘पहली पारी में वह दुर्भाग्यशाली रहे और जल्दी आउट हो गये। वह मुश्किल विकेट था। दूसरी पारी में उन्होंने शानदार बल्लेबाजी की और अब हम अच्छी स्थिति में हैं।’’