टीम इंडिया के साथ भुवनेश्वर कुमार © Gettty Images
टीम इंडिया के साथ भुवनेश्वर कुमार © Gettty Images

कोलकाता। भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने डेथ ओवरों में उम्दा गेंदबाजी का श्रेय इंडियन प्रीमियर लीग को देते हुए कहा कि रविवार को यहां तीसरे वनडे में इंग्लैंड के खिलाफ टीम बिना किसी दबाव के उतरेगी। भुवनेश्वर ने कहा,”डेथ ओवरों में मेरी गेंदबाजी का श्रेय आईपीएल को जाता है। आईपीएल में डेथ ओवरों में गेंदबाजी से मुझे अनुभव मिला। उसे ध्यान में रखकर मैंने गेंदबाजी की और इसका फायदा मिला।” आईपीएल 2016 में भुवनेश्वर ने 17 मैचों में 23 विकेट लेकर सनराइजर्स हैदराबाद की जीत के सूत्रधार की भूमिका निभाई थी। उन्होंने कहा,”मैं उस समय भारत के लिए खेल रहा था। आईपीएल टीम डेथ ओवरों के लिए काफी हद तक मुझ पर निर्भर थी।” कटक में आखिरी स्पेल के बारे में उन्होंने कहा,”मुझे पता था कि मेरे पांच ओवर बाकी है और खेल का पासा किसी भी तरफ पलट सकता है। मुझे पता था कि कैसे गेंदबाजी करनी है और इसका श्रेय आईपीएल को जाता है। दबाव था और ओस भी थी लेकिन पहला ओवर डालते ही मेरा आत्मविश्वास लौट आया।” [ये भी पढ़ें: ईडेन गार्डन में पिच पर नहीं होगी घास, फिर से बरसेंगे रन]

दोनों मैचों में 700 से उपर रन बने और भुवनेश्वर ने कहा कि अब इसकी आदत हो गई है। उन्होंने कहा,”अब 350 का स्कोर सामान्य लगता है। हमें इसकी आदत हो गई है और इसी के हिसाब से हम रणनीति बनाते हैं।” भुवी साल 2012 से से भारतीय टीम की ओर से क्रिकेट खेल रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कुल 58 वनडे मैचों में 61 विकेट लिए हैं। इसके अलावा उन्होंने 16 टेस्ट मैचों में 42 विकेट लेने में भी सफलता प्राप्त की है। 26 साल के भुवी को दूसरे वनडे में उमेश यादव की जगह अंतिम एकादश में शामिल किया गया था। भुवी ने कटक वनडे में 10 ओवरों में 63 रन देकर 1 विकेट निकाला और टीम इंडिया की 15 रनों की जीत में अहम भूमिका निभाई।