पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा कि सीनियर तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप 2022 के लिए टीम इंडिया की योजनाओं में होंगे। पूर्व कप्तान ने कहा कि भुवनेश्वर ने अपनी प्रतिष्ठा पर आराम नहीं किया, बल्कि खराब फॉर्म के बाद वापसी करने के लिए कड़ी मेहनत की है।

भुवनेश्वर कुमार ने गुरुवार को श्रीलंका के खिलाफ पहले टी20 मैच में 2 ओवर के स्पेल में 2 विकेट चटकाए और सिर्फ 9 रन दिए। सीनियर पेसर वेस्ट इंडीज के खिलाफ T20I सीरीज़ में भी अच्छे फॉर्म में थे।

भुवनेश्वर दक्षिण अफ्रीका में खेली गई वनडे सीरीज में औसत प्रदर्शन के बाद अपनी गति में सुधार करने और स्विंग के साथ विपक्ष को परेशान करने में सक्षम रहे हैं। टी20 विश्व कप के दौरान खराब प्रदर्शन के बाद सीनियर पेसर को टीम से बाहर कर दिया गया था। गावस्कर के अनुसार, भुवनेश्वर कुमार ने पिछले दो सालों में 7 वनडे मैचों में सिर्फ 9 विकेट लिए हैं, लेकिन हाल ही में फॉर्म में वापसी उनकी मेहनत को दर्शाती है।

गावस्कर ने स्टार स्पोर्ट्स को बताया, “वो फिर से एक प्वाइंट बना रहा है। हां, दक्षिण अफ्रीका में उसका प्रदर्शन बहुत ही सामान्य था लेकिन उन्होंने अच्छ वापसी की। फिर से, प्रतियोगिता को देखें, कोई भी उसकी जगह नहीं ले सकता है। वो इतने लंबे समय से एक वरिष्ठ गेंदबाज रहा है, जिस पल वो थोड़ा सा फिसल गया और उसके बारे में सवाल पूछे गए, उसने खुद को साबित किया।”

उन्होंने कहा, “वो ये सोचकर डरा नहीं कि ‘ओह क्या होने जा रहा है?’ उसने कड़ी मेहनत की है, उसने अपनी गेंदबाजी को देखा है और वो हर गुजरते दिन के साथ बेहतर होने की कोशिश कर रहा है। और यही महत्वपूर्ण है। वो अपनी प्रशंसा पर आराम नहीं कर रहा है। वो अतिरिक्त गति और उछाल के साथ कह रहा है जो ऑस्ट्रेलिया में मिलेगा, वो फ्रेम में होगा।”

भुवनेश्वर को कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि टी20 विश्व कप के लिए तेज गेंदबाजी विभाग में भारत के पास काफी विकल्प हैं। मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj), दीपक चाहर (Deepak Chahar) और शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) जैसे खिलाड़ी लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, ऐसे में भारत मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के साथ जोड़ी बनाने के विकल्पों पर विचार करेगा।