Birthday Special: With 6/25 against england, Yuzvendra chahal was selected ICC T20I Performer of the Year in 2017
Yuzvendra Chahal with Virat Kohli (File Photo) © AFP

भारतीय क्रिकेट में सीमित ओवरों के क्रिकेट में करीब साल भर पहले तक रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जड़ेजा बड़ा नाम हुआ करते थे। कप्‍तान विराट कोहली और कोच रवि शास्‍त्री को भी दोनों पर काफी भरोसा था, लेकिन एक साल में युजवेंद चहल और कुलदीप यादव की फिरकी का जादू ऐसा चला कि अश्विन और जड़ेजा का सीमित ओवरों के क्रिकेट से पत्‍ता पूरी तरह साफ हो गया। युजवेंद्र चहल क्रिकेट जगत में इस वक्‍त बड़ा नाम है।

इंग्‍लैंड की मुश्किल टेस्‍ट सीरीज के लिए रवाना हुए टीम के दिग्‍गज
इंग्‍लैंड की मुश्किल टेस्‍ट सीरीज के लिए रवाना हुए टीम के दिग्‍गज

आज युजवेंद्र चहल का जन्‍मदिन है। मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर ने भी चहल को जन्‍मदिन की बधाई दी है। आयरलैंड के खिलाफ दो मैचों की टी-20 सीरीज में युजवेंद्र चहल ने छह विकेट निकाल मैन ऑफ द सीरीज अपने नाम की। चहल पहली बार दुनिया की नजरों में साल 2017 में इंग्‍लैंड के खिलाफ खेली गई टी-20 सीरीज के दौरान आए थे।

भारत में हुई इस सीरीज के तीसरे टी-20 में युजवेंद्र चहल ने चार ओवरों में 25 रन देकर छह विकेट अपने नाम किए थे। भारत ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 202 रन बनाए। जवाब में पूरी इंग्‍लैंड की टीम चहल की गेंदबाजी के सामने नहीं टिक पाई और 127 रन पर ही ऑलआउट हो गई। आईसीसी ने युजवेंद्र चहल के इस प्रदर्शन को साल 2017 का परफॉर्मेंस ऑफ द ईयर का अवार्ड दिया था।

करियर का पहला चौका लगाकर हवा में लहराया बल्‍ला

इंग्‍लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान दूसरे मैच में चहल ने अपने करियर का पहला चौका लगाया। इस मैच में भारत की हार लगभग तय थी। चहल 11वें नंबर पर बल्‍लेबाजी करने आए। उन्‍होंने इस मैच में दो चौके लगाए। पहला चौका लगाने के बाद उन्‍होंने बल्‍ले को पवेलियन की तरफ लहराया। सभी सीनियर खिलाड़ियों ने तालियां बजाकर चहल को सराहा।

चहल ने इसपर कहा, ” बल्‍लेबाजी पर जाने से पहले बाकी खिलाड़ी उन्‍हें चिढ़ा रहे थे। वो उन्‍हें चेस्‍ट गार्ड लगाकर बल्‍लेबाजी के लिए जाने की सलाह दे रहे थे। इसीलिए उन्‍होंने चौका लगाने के बाद बल्‍ला लहराया।”