भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए रवाना होगी। कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए उनके सवालों के जवाब दिए। कोहली ने कहा टीम की गेंदबाज बहुत अच्छा कर रहे हैं लेकिन बल्लेबाजों को भी उनका साथ निभाना पड़ेगा।

भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए पूरी तरह से तैयार है। टीम को कोच और कप्तान इस दौरे को लेकर काफी उत्साहित नजर आए। इंग्लैंड के प्रदर्शन से टीम ने सीख लिया है और वह ऑस्ट्रेलिया सीरीज में गलतियां नहीं दोहराएगी।

पूरे दिन एक जैसी रफ्तार बनाए रखी होगी

कोहली ने कहा, ”ऑस्ट्रेलिया में पिच कई बार बोरिंग हो सकती है कुकाबुरा बॉल ज्यादा मूव ना करे, ऐसे में धैर्य और रफ्तार को बनाए रखने की जरूरत होगी, जिसके साथ आप दिन की शुरुआत करेंगे। पूरे दिन एक जैसी रफ्तार बनाए रखने की जरूरत होगी। दक्षिण अफ्रीका ऐसा करने में कामयाब हुए इसलिए उनको ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सफलता मिली।”

कंप्लीट परफॉर्मेंस की जरूरत

”हमारे गेंदबाज दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजी जैसा करने में सक्षम हैं लेकिन फिर भी इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहूंगा। अच्छा महसूस होता है यह सोचकर कि हमारे पास बेहतरीन बॉलिंग अटैक है लेकिन बल्लेबाजो को भी आगे बढ़कर आना होगा। हमने इस पर इंग्लैंड दौरे के बाद बात की है और सभी इसको सही करने की कोशिश में है। हम हर एक मैच के लिए कंप्लीट परफॉर्मेंस देना चाहते हैं।”

हम 20 विकेट निकालने में सक्षम

”बल्लेबाज कैसे साथ में अच्छी बल्लेबाजी करें इसपर हमारा ज्यादा ध्यान होगा। क्योंकि गेंदबाजी बहुत अच्छी लय में हैं, उनको पता है क्या करना है। लंबे समय बाद हमें यह लगता है 20 विकेट निकाल सकते हैं। यह एक बहुत अच्छी फीलिंग है। पूरे कॉम्बिनेशन को साथ मिलकर आगे आना होगा। सिर्फ एक मैच नहीं पूरी सीरीज के दौरान ।”