बांग्लादेशी फैंस © Getty Images
बांग्लादेशी फैंस © Getty Images

बांग्लादेश प्रीमियर लीग के 33वें मुकाबले में राजशाही किंग्स ने चटगांव विकिंग्स को 33 रनों से हरा दिया। राजशाही की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 157 रन बनाए और उसने चटगांव को लक्ष्य हासिल नहीं करने दिया। चटगांव की टीम 19.2 ओवर में 124 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। इस हार के साथ ही चटगांव बांग्लादेश प्रीमियर लीग से बाहर होने वाली पहली टीम बन गई। वहीं राजशाही की टीम अंक तालिका में पांचवें नंबर पर पहुंच गई और वो प्लेऑफ की दौड़ में अब भी बनी हुई है।

चटगांव की हार और राजशाही की जीत तय की एक 19 साल के तेज गेंदबाज ने जो कि अपना पहला ही मैच खेल रहा था। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज काजी ओनिक ने 3.2 ओवर में 17 रन देकर 4 विकेट लिए। काजी ओनिक ने एनामुल हक, सिटायन वेन जिल, सुनजामुल इस्लाम और तनबिर हैदर को आउट किया। काजी ओनिक को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। तनबिर हैदर का अपने पहले ही मैच में ऐसा प्रदर्शन काबिलेतारीफ है। वो बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं और बांग्लादेश की टीम के लिए अच्छा विकल्प साबित हो सकते हैं।

केविन पीटरसन के मुंह पर लगी बाउंसर, फैंस ने ट्विटर पर उड़ाया मजाक
केविन पीटरसन के मुंह पर लगी बाउंसर, फैंस ने ट्विटर पर उड़ाया मजाक

डैरेन सैमी चमके
राजशाही किंग्स की जीत में डैरेन सैमी ने भी अहम योगदान दिया। सैमी ने महज 25 गेंद में 40 रनों की पारी खेली। जिसमें उन्होंने 2 चौके और 3 छक्के लगाए। सैमी के अलावा जेम्स फ्रैंकलिन ने 30 और मुश्फिकुर रहीम ने 22 गेंद में 31 रन बनाए। वहीं चटगांव विकिंग्स का कोई भी बल्लेबाज कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सका। कप्तान रॉन्की महज 8 रन बना सके। सौम्या सरकार 13 और एनामुल हक ने 23 रन बनाए। सबसे ज्यादा 27 रन की पारी वेन जिल ने खेली।