ब्रेट ली  © Getty Images
ब्रेट ली © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया में खेली जा रही वनडे श्रृंखला में अपने बैट से जादू दिखाने वाले भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली की चहुं-ओर प्रशंसा हो रही है। कोहली के प्रशंसकों में एक और नाम जुड़ा है और यह नाम है ऑस्ट्रेलियाई टीम की सनसनी पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली। ब्रेट ली ने विराट कोहली की जमकर तारीफ की और उनकी तुलना पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर से कर डाली। कोहली ने केनबरा में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे वनडे मैच में बेहतरीन बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया और 92 गेंदों में 106 रनों की आतिशी पारी खेली। ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए 221 वनडे मैच खेलने वाले ली ने कहा, “विराट एक महान खिलाड़ी हैं। वह शानदार फॉर्म में हैं और गेंदबाजों को नहीं पता चलता कि उन्हें कहां गेंदबाजी की जाए। सचिन जब बल्लेबाजी करने उतरते थे तो कुछ ऐसा ही होता था। सचिन की तरह विराट की मैदान में मौजूदगी भी विरोधियों की आंखें चकाचौंध कर देती हैं।” ली ने ये बातें बीसीसीआई की वेबसाइट से बात करते हुए कहीं। ये भी पढ़ें: सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली में बेहतर बल्लेबाज कौन?

सचिन के खिलाफ कई बार गेंदबाजी कर चुके ली ने कहा, “विराट अगर एक बार लय पकड़ लें तो उन्हें रोकना मुश्किल हो जाता है। विराट आक्रामक खेलते हैं और उनका अपने शॉट्स पर नियंत्रण रहता है। वह शानदार फॉर्म में हैं।” भारतीय टीम पहले चार वनडे हार कर सीरीज में 0-4 से पिछड़ चुकी है, लेकिन सीरीज हार के बावजूद ली ने कप्तान धोनी की तारीफ की। उन्होंने आगे कहा, “मेरे ख्याल से भारत ने अच्छा प्रदर्शन किया है। दो बार वे जीत के करीब पहुंचे लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें रोक दिया। टीम अच्छा क्रिकेट खेल रही है लेकिन अफसोस है कि खराब गेंदबाजी की वजह से वो ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को आउट नहीं कर सके। ऑस्ट्रेलिया ने तीन बार 300 रन को बौना साबित कर दिया।”  भारत-बनाम ऑस्ट्रेलिया, चौथा वनडे स्कोरकार्ड देखने के लिए क्लिक करें।

ली कहते हैं, “टीम इंडिया आसानी से हार नहीं मानती भले ही वो सीरीज हार चुकी हो। कई बार वो जीत के करीब पहुंचकर हारी है। मेलबर्न में अगर ग्लेन मैक्सवेल आउट हो गए होते को कैनबरा में नतीजा 2-1 का होता।” वहीं कैनबरा में 6.70 की औसत से 10 ओवर में रन लुटाने वाले उमेश यादव पर ली कहते हैं, “मैं हमेशा से उमेश का फैन रहा हूं। उमेश की गेंद में तेजी है और वो आक्रामक गेंदबाजी करते हैं। जहां तक बरिंदर सरां का सवाल है तो उनकी तेजी को देखकर अच्छा लगा है, खासकर पर्थ वनडे में। उनकी गेंदबाजी एक्शन अच्छी है। आने वाले समय में वो एक अच्छे गेंदबाज बनकर उभरेंगे।”

भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ केनबरा में खेले गए चौथे वनडे मैच में 25 रनों की हार का सामना करना पड़ा था। भारत के अंतिम 9 विकेट मात्र 46 रनों पर गिर गए और एक समय जीतती दिख रही टीम इंडिया को हार का मुंह देखना पड़ा। भारत अपपना अँतिम वनडे एडीलेड में 23 जनवरी को खेलेगा।