ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली (Brett Lee) ने विराट कोहली (Virat Kohli) को लेकर बड़ा बयान दिया है. ली के मुताबिक कोहली दिमाग को तरोताजा करने और कुछ चीजों पर काम करने के लिए खेल से ब्रेक लेने पर विचार कर सकते हैं.

कोहली ने पिछले तीन साल से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कोई शतक नहीं लगाया है. कोहली की बल्लेबाजी में बुरे दौर के बारे में पूछे जाने पर ली ने शनिवार को पीटीआई से कहा, ‘‘अगर मैं ये कहूं कि क्या यह चिंता का विषय है तो हां, यह चिंता का विषय है. मैं चाहूंगा कि कोहली अधिक रन बनाए.’’

ली ने कहा, ‘‘कोहली को लेकर आमतौर पर यह बात रहती है कि जब वह अच्छा करते हैं तो टीम का प्रदर्शन भी अच्छा रहता है और जब वह रन नहीं बनाते हैं तो टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं करती है. हमने 2016 आईपीएल सत्र में देखा है जब वह शानदार लय में थे. उन्होंने 800-900 रन बनाये थे और टीम ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया था. ’’

ली ने आगे कहा, ‘‘हो सकता है (यह) कोहली के लिए अभ्यास में वापस जाने और कुछ चीजों पर काम करने का मौका हो और शायद क्रिकेट से आराम करने से भी उन्हें फायदा होगा . उन्हें कुछ समय के लिए खेल से दूर रहकर दिमाग को तरोताजा करना चाहिए.’’

ली भारत में तेज गेंदबाजी की नयी प्रतिभाओं से काफी प्रभावित है. इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सत्र में आवेश खान, मोहसिन खान, उमरान मलिक, मुकेश चौधरी, अर्शदीप सिंह जैसे युवा तेज गेंदबाजों ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया.

टेस्ट क्रिकेट में 310 विकेट लेने वाले ली इससे काफी प्रभावित हुए है. उन्होंने कहा, ‘‘दो खान लड़कों (मोहसिन और आवेश) के पास असली प्रतिभा है. भारतीय क्रिकेट तेज गेंदबाजों की फौज पैदा कर रहा है. यह मुझे काफी पसंद आया. उनके पास अच्छे स्पिन विकल्प भी हैं, लेकिन निश्चित रूप से अगर आप ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप के बारे में सोच रहे हैं, तो आपको ऐसे खिलाड़ी चाहिए जो तेज उछाल वाले विकेटों पर तेज गेंदबाजी कर सकें.’’

उन्होंने कहा कि उमरान मलिक को टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहिये. जम्मू कश्मीर के इस तेज गेंदबाज ने 150 किलोमीटर से अधिक की रफ्तार से लगातार गेंदबाजी कर के सुर्खियां बटोरी. उन्होंने कहा, ‘‘देखिए वह शानदार है, उमरान मलिक ने जो किया वह शानदार गति है. मुझे उम्मीद है कि उसे खेल के लंबे प्रारूप में भी खेलने का मौका मिलेगा.’’