Brijesh Patel: Dream11 as a fantasy sports brand will grow engagement of IPL 2020 with its fans
IPL Trophy @ians

Dream11 Won The IPL 2020 Title Sponsorship Rights: फंतासी गेमिंग से जुड़ी कंपनी ड्रीम11 इस साल 19 सितंबर से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग 2020 (IPL 2020) का टाइटल प्रायोजक होगी लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने उसकी सशर्त तीन साल की बोली नामंजूर कर दी है क्योंकि उसने वर्ष 2021 और 2022 के लिए कम बोली लगाई थी।

England vs Pakistan T20 Series : इंग्लैंड की 14 सदस्यीय टीम में डेविड विली और डेविड मलान की वापसी

ड्रीम11 ने शिक्षा तकनीक से जुड़ी कंपनियां बाइजू और अनएकडेमी को पीछे छोड़कर कुल 222 करोड़ रुपये में चार महीने 13 दिन के लिये प्रायोजन अधिकार हासिल किए। वह चीनी मोबाइल फोन कंपनी वीवो का स्थान लेगी।

ड्रीम11 को आईपीएल 2020 के लिए नया टाइटल प्रायोजक घोषित किया गया है

बीसीसीआई ने आईपीएल चेयरमैन बृजेश पटेल के मंगलवार को दिये गये बयान की पुष्टि करते हुए बुधवार को जारी विज्ञप्ति में कहा, ‘आईपीएल संचालन परिषद ने ड्रीम11 को इंडियन प्रीमियर लीग 2020 के लिए नया टाइटल प्रायोजक घोषित किया है। ड्रीम11 (स्पोर्टो टेक्नोलोजी प्रा. लि.) एक मुंबई, महाराष्ट्र स्थित भारतीय कंपनी है।’

वीवो की वापसी नहीं होने की स्थिति में हो सकता है ऐसा 

ड्रीम11 ने वीवो के प्रत्येक साल 440 करोड़ रुपये के करार पर वापसी नहीं करने की स्थिति में 2021 और 2022 में प्रत्येक साल 240 करोड़ रुपये का भुगतान करने की पेशकश की है। वीवो को सीमा पर भारत-चीन तनाव के कारण प्रायोजन से हटना पड़ा था।

CPL 2020: सुनील नारायण के ऑलराउंड प्रदर्शन से जीते नाइटराइडर्स

सूत्रों ने कहा है कि बीसीसीआई और ड्रीम इलेवन तीन साल के सशर्त करार पर बातचीत की और बोर्ड ने कंपनी से अगले दो सत्र के लिये राशि में बढ़ोतरी करने के लिए कहा।

‘अगले दो वर्षों में सुधार की उम्मीद  कर सकते हैं’

बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई-भाषा से कहा, ‘ड्रीम11 की बोली सबसे अधिक है लेकिन बीसीसीआई उसे 240 करोड़ रुपये में क्यों अधिकार सौंपे जबकि हम अगले दो वर्षों में कोविड-19 की स्थिति में सुधार की उम्मीद कर सकते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘वीवो के साथ हमारा करार अब भी कायम है। हमने इसे खत्म नहीं किया है, यह बस रुका है। अगर हमें 440 करोड़ रुपये मिल रहे हैं तो हम 240 करोड़ रुपये क्यों लें।’

ड्रीम11 का खेलों के साथ जुड़ाव पिछले कुछ वर्षों में बढ़ा है तथा अभी वह कुल 19 लीग से जुड़ा है जबकि इंडियन प्रीमियर लीग की छह फ्रेंचाइजी के साथ भी उसका करार है।

‘हम ड्रीम11 का आईपीएल 2020 के टाइटिल प्रायोजक के रूप में स्वागत करते हैं’

आईपीएल चेयरमैन पटेल ने बीसीसीआई की विज्ञप्ति में कहा, ‘हम ड्रीम11 का आईपीएल 2020 के टाइटिल प्रायोजक के रूप में स्वागत करते हैं। ड्रीम11 का आधिकारिक भागीदार से टाइटिल प्रायोजक बनना ब्रांड आईपीएल के लिये शानदार है।’

उन्होंने कहा, ‘एक डिजिटल ब्रांड के तौर पर इससे उन्हें घर में बैठकर मैच देख रहे प्रशंसकों से ऑनलाइन जुड़ने का शानदार मौका मिलेगा।’

ड्रीम स्पोर्ट्स के सीईओ और सह संस्थापक हर्ष जैन ने कहा, ‘भारतीयों द्वारा विशेष रूप से भरतीय खेल प्रेमियों के लिये भारत में बनाये गये भारतीय ब्रांड के तौर पर हम आईपीएल टाइटिल प्रायोजक बनने का मौका देने के लिये बीसीसीआई का आभार व्यक्त करते हैं।’

अगर वीवो वापसी नहीं करता तो पूरी संभावना है कि बीसीसीआई 2021 और 2022 के लिए नए सिरे से बोली लगवाएगा क्योंकि दुनिया का सबसे धनी बोर्ड 400 करोड़ रुपये से कम पर तैयार नहीं होगा।