एशेज सीरीज (Ashes 2021-22) की शुरुआत होने में अब 3 महीने से भी कम का समय बचा है. लेकिन इंग्लैंड के खिलाड़ियों की चिंताएं अभी तक दूर नहीं हो रही हैं. ऑस्ट्रेलिया में कोविड- 19 नियमों के चलते खिलाड़ियों को अपने परिवार के साथ जाने की इजाजत नहीं है और इंग्लैंड के खिलाड़ी इससे चिंतित हैं.

खिलाड़ियों का मानना है कि वह लंबे समय से बायो बबल में हैं और एशेज जैसी बड़ी सीरीज में भी परिवार के बिना बायो बबल में रहना उनके लिए मुश्किल होगा. अब ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने भी ऑस्ट्रेलिया से खिलाड़ियों की मांग पर गौर करने की बात कही है.

बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (Scott Morrison) से बात कर अपने खिलाड़ियों की ओर से गुहार लगाई है कि वह उन्हें अपने परिवार के साथ ऑस्ट्रेलिया आने की इजाजत दें. इंग्लैंड को दिसंबर के महीने में एशेज सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करना है.

खिलाड़ियों ने लंबे समय तक बायो-बबल में रहने पर अपनी सेहत को लेकर चिंता जताई है. उन्हें टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) के तुरंत बाद ही इंग्लैंड को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए जाना है.

बोरिस जॉनसन ने कहा कि हमारे खिलाड़ी इस सीरीज के दौरान मानसिक दबाव न महसूस करें और वे क्रिसमस के दौरान अपने परिवार के साथ रहें. इसलिए उन्हें इसकी इजाजत दी जानी चाहिए. उन्होंने कहा, ‘मैने खिलाड़यों को परिवार के साथ यात्रा करने के विषय में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री से बात की है और उन्होंने इस बात को समझा है. उन्होंने कहा है कि वह क्या कर सकते हैं इस विषय पर वे हमें बताएंगे.’

मॉरिसन ने जबाव में कहा, ‘मैं जरूर चाहूंगा कि एशेज हो, मैने जॉनसन से बात की है पर हमारे बीच कोई खास डील नहीं हुई है.’ इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टेस्ट मैच ब्रिसबेन में 8 दिसंबर से शुरू होना है पर अभी भी इंग्लैंड के खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में 14 दिनों तक सख्त क्वॉरंटीन में रहने पर संदेह जता रहे हैं.

(इनपुट: एजेंसी)