Cameron Bancroft becomes 8th Australian to carry his bat three times in first-class cricket
Cameon Bancroft © Getty Images

बॉल टैंपरिंग मामले में 9 महीने का बैन खत्म करने के बाद प्रथम-श्रेणी क्रिकेट में लौटे कैमरून बैनक्रॉफ्ट ने न्यू साउथ वेल्स के खिलाफ मैच में शानदार शतक जड़ा। बैनक्रॉफ्ट ने वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 358 गेंदो पर 138 रनों की पारी खेली और नाबाद रहे। इस नाबाद पारी के दम पर बैनक्रॉफ्ट ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट के इतिहास में शानदार कीर्तिमान हासिल किया है।

ये भी पढ़ें: मिडलसेक्स क्लब से जुड़े एबी डीविलियर्स, टी20 ब्लास्ट में लेंगे हिस्सा

बैनक्रॉफ्ट प्रथम-श्रेणी क्रिकेट में तीन बार पूरी पारी खेलकर नाबाद लौटने वाले आठवें ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर बन गए हैं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया वेबसाइट से मुताबिक बैनक्रॉफ्ट बिल वुडफुल, बिल लॉरी और माइक हसी जैसे दिग्गजों की सूची में शामिल हो गए हैं।

प्रथम-श्रेणी क्रिकेट में तीन बार एक पूरी पारी खेलकर नाबाद रहने वाले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर:

1 वारेन बर्ड्सले
2 विल वुडफुल
3 फैंक टारेट
4 बिल लॉरी
5 माइकल डी वेन्यूटो
6 मैथ्यू इलियट
7 माइक हसी
8 कैमरून बैनक्रॉफ्ट

इस शतकीय पारी के दौरान बैनक्रॉफ्ट ने अपने शेफील्ड शील्ड करियर में छठीं बार एक पारी में 300 से ज्यादा गेंदो का सामना किया, जो कि सर्वाधिक है। उनके अलावा माइकल क्लिंगर (पांच बार), एडम वोगस (तीन बार), मोएसिस हैनरीकेज (दो बार), रयान कार्टर्स (दो बार), पीटर नेविल (दो बार), एलेक्स डूलन (दो बार), विल पुकोवस्की (दो बार), विलियम बोसिस्टो (दो बार) ये कारनामा किया है।

ये भी पढ़ें: मार्क वुड ने माना, जोफ्रा ऑर्चर टीम में आए तो उनकी जगह को खतरा

बैनक्रॉफ्ट के लिए शील्ड मैच ऑस्ट्रेलिया टेस्ट टीम में वापसी के मौके हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि वो इस बारे में ज्यादा नहीं सोच रहे हैं। एबीसी ग्रैंडस्टैंड से बातचीत में बैनक्रॉफ्ट ने कहा, “मेरे नियंत्रण में वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के ये चार शील्ड मैच हैं। मैंने सर्दियों में डरहम के साथ काउंटी क्रिकेट खेलने का कॉन्ट्रेक्ट भी किया है। ये वो चीजें हैं जिन्हें मैं नियंत्रित कर सकता हूं और मैं इसके लिए अपनी ऊर्जा देने को तैयार हूं।”