सोमवार को सोशल मीडिया पर भारत में आयोजित किए जा रहे इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) के 15वें सीजन को रद्दे किए जाने की मांग की जा रही है। दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि आईपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) टीम के एक विदेशी खिलाड़ी के कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जिसके बाद फ्रेंचाइजी को 20 अप्रैल को पंजाब किंग्स के खिलाफ होने वाले मैच के लिए पुणे की यात्रा स्थगित करनी पड़ी.

क्रिकबज में छपी रिपोर्ट के मुताबिक समझा जाता है ऑस्ट्रेलिया के एक ऑलराउंडर खिलाड़ी में बीमारी के कुछ लक्षण दिखे, जिसके बाद रैपिड एंटीजन जांच का नतीजा पॉजिटिव आया.

बीसीसीआई सोमवार को पीटीआई-भाषा से बताया, ‘‘दिल्ली कैपिटल्स को आज पुणे की यात्रा करनी थी, लेकिन स्क्वाड के सभी सदस्यों को अपने-अपने कमरे में ही रुकने के लिए कहा गया है. ये पता लगाने के लिए आरटी पीसीआर किया जा रहा है कि टीम में कोविड-19 का कोई प्रकोप तो नहीं है या ये पैट्रिक फरहार्ट जैसा इकलौता मामला है.’’

समझा जाता है कि सहयोगी स्टाफ के एक अन्य सदस्य में भी इसके लक्षण हैं लेकिन उसके आरटी-पीसीआर जांच के नतीजे का इंतजार है. सूत्र ने कहा, ‘‘सभी टीमें पुणे के कोनराड होटल में ठहरी हुई हैं, जहां बीसीसीआई ने बायो-बबल बनाया है. दिल्ली कैपिटल्स को यात्रा करनी थी, लेकिन अब इसमें देरी हो गई है. जाहिर है कि जांच में जिनके परिणाम नेगेटिव होंगे वे कल आगे की यात्रा पर जाएंगे.’’

टीम फिजियो फरहार्ट के पिछले सप्ताह जांच में पॉजिटिव आये थे. टीम के एक सूत्र ने कहा, ‘‘हमें आज यहां से रवाना होना था, लेकिन अगली सूचना तक कमरे में रहने के लिए कहा गया है.’’

आईपीएल बायो-बबल के बाहर कोविड-19 के मामले बढ़ने लगे है. बायो-बबल के अंदर भी वायरस का खतरा भी बढ़ गया है. पिछले सत्र में कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच टूर्नामेंट को स्थगित करना पड़ा था. इसे सितंबर-अक्टूबर में यूएई में पूरा किया गया .