भारतीय टेस्‍ट टीम में टॉप ऑर्डर की मजबूत कड़ी चेतेश्‍वर पुजारा लॉकडाउन के समय में परिवार के साथ हैं. उनका अधिकांश समय बेटी के साथ खेलने में जाता है. पुजारा ने कहा कि ज्‍यादातर वक्‍त क्रिकेट खेलते हुए बिताने के कारण अब उनके लिए घर पर बैठे रहना काफी मुश्किल हो रहा है.

चेतेश्‍वर पुजारा ने कहा, “बार-बार मन करता है कि घूमने के लिए घर से बाहर निकलूं लेकिन मैं खुद को रोक लेता हूं. यह मेरी जिम्‍मेदारी है कि देश और परिवार की खातिर घर के अंदर ही बना रहूं.”

चेतेश्‍वर पुजारा ने प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोनावायरस के खतरे से देशवासीयों को बचाने के लिए लगाए गए 21 दिन के लॉकडाउन का स्‍वागत किया. देश की खातिर यह कदम बेहद जरूरी था.

पुजारा ने बताया, “मैं इन दिनों खुद के साथ समय बिता रहा हूं. जब भी मैं अकेला होता हूं तो खिताब पढ़ने और टीवी देखना पसंद करता हूं. मेरे पास एक बेटी है जो हमेशा ही खेलने के लिए काफी उत्‍साह से भरी रहती है. मैं रोज के काम में पत्‍नी का हाथ भी बटा रहा हूं.”

पुजारा ने कहा कि यह भारत के लिए ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के लिए बेहद मुश्किल वक्‍त है. केवल घर के अंदर रहकर ही इस माहामरी से लड़ा जा सकता है.

भारत में इस महामारी के चलते अबतक 19 लोगों की जान जा चुकी है. साढ़े आठसो से ज्‍यादा लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो चुकी हैं. दुनिया भर में 27 हजार लोग कोरोनावायरस के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं.