Chetan Chauhan praised MS Dhoni’s patriotism, said others will follow him
महेंद्र सिंह धोनी © AFP

उत्तर प्रदेश के खेल मंत्री चेतन चौहान ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी का विश्व कप मैच के दौरान ‘बलिदान चिन्ह’ वाले दस्ताने पहनने से उनकी देशभक्ति का पता चलता है लेकिन अगर इस तरह की चीजों को अनुमति मिलती है तो बाकी देशों के खिलाड़ी भी उनका अनुसरण कर सकते हैं।

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ साउथम्पटन में बुधवार को खेले गए मैच के दौरान धोनी के विकेटकीपर दस्तानों पर ‘बलिदान चिन्ह’ बना था जो कि सेना के प्रतीक चिन्ह जैसा लग रहा था। आईसीसी ने हालांकि इस पर कड़ा रवैया अपनाते हुए धोनी को विश्व कप के बाकी मैचों में इस तरह के चिन्ह वाले दस्ताने पहनने की अनुमति नहीं दी।

महाराष्ट्र के शिर्डी स्थित मशहूर साईबाबा मंदिर में दर्शन के लिए आए पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चौहान ने शनिवार की शाम पत्रकारों से कहा कि इससे धोनी की देशभक्ति का पता चलता है लेकिन खिलाड़ियों को आईसीसी नियमों के अनुसार चलना चाहिए।

भारत के खिलाफ जीत की हैट्रिक लगाने उतरेगी ऑस्ट्रेलिया

उन्होंने कहा, ‘‘अगर ऐसा हो रहा है तो अन्य देशों के खिलाड़ी भी अपनी शर्ट, पैंट, बल्ले, दस्तानों पर स्टिकर लगाना शुरू कर देंगे। लेकिन आईसीसी नियमों के अनुसार तरह के चिन्ह का उपयोग करना प्रतिबंधित है।”

चौहान ने इसके साथ ही कहा कि भारत के पास विश्व कप जीतने का यह बेहतरीन मौका है। उन्होंने सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली को टीम का ‘केंद्र बिंदु’ करार देते हुए कहा, ‘‘हमारे पास जसप्रीत बुमराह जैसे अच्छे तेज गेंदबाज हैं और हमारे पास अच्छे स्पिनर भी हैं।’’