चेतेश्वर पुजारा © Getty Images
चेतेश्वर पुजारा © Getty Images

साल 2016 में टीम इंडिया ने नई उंचाईंयों को छुआ। टीम ने सालभर बेहतरीन प्रदर्शन किया और एक भी मैच नहीं हारा। विराट कोहली की कप्तानी में टीम ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए बड़ी से बड़ी टीमों को मात दी। वहीं टीम की जीत में अहम किरदार निभाने वाले और भारतीय टीम की नई दीवार माने जाने वाले चेतेश्वर पुजारा ने कहा कि मेरे और टीम के लिए साल 2016 बहुत ही खास रहा। पुजारा ने कहा कि इस दौरान हमने एक मैच भी नहीं हारा जो दिखाया है कि टीम के अंदर अब जीतने की ललक सवार है।

पुजारा ने कहा, कि साल 2016 मेरे और टीम के लिए बहुत बेहतरीन रहा। टीम ने इस साल रणीनति के मुताबिक प्रदर्शन किया और मैच दर मैच अपने खेल में निखार लाया। हालांकि वेस्टइंडीज दौरे पर पुजारा का प्रजर्शन कुछ खास नहीं रहा था, लेकिन इसके बाद पुजारा ने अपने खेल का स्तर उठाते हुए शानदार बल्लेबाजी की और टीम की जीत में अहम योगदान दिया। ये भी पढ़ें: साल 2017 में टीम इंडिया के सामने होंगी आईसीसी चैंपिंयस ट्रॉफी समेत कई चुनौतियां

पुजारा ने कहा, ‘मैंने अच्छी बल्लेबाजी की और मैं खेल के तीनों प्रारूपों में अच्छा कर सकता हूं। मुझे इस बात का पूरा भरोसा है कि मैं खेल के हर प्रारूप में शानदार खेलूंगा। मैं किसी विशेष गेंजदबाज को खतरनाक या मुश्किल नहीं कहूंगा क्योंकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का मतलब ही चुनौती होगा है। ऐसे में हर गेंदबाज विश्वस्तरीय और खतरनाक होता है। मैंने पिछले साल शानदार बल्लेबाजी की और 2017 में भी अपनी बल्लेबाजी से टीम को जीत दिलाने का भरपूर प्रयास करूंगा। इस दौरान मुझे कई चीजें सीखने को मिलीं।’