Cheteshwar Pujara’s mind has been messed up by Team management, says Sunil Gavaskar
Cheteshwar Pujara © getty images

पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर का कहना है कि स्कोरिंग रेट को बढ़ाने की कोशिश इंग्लैंड दौरे पर चेतेश्वर पुजारा के असफल होने की वजह है। गावस्कर ने टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए लिखे कॉलम ने कहा कि मैनेजमेंट के लगातार स्कोरिंग रेट के बारे में याद दिलाए जाने की वजह से पुजारा पुल और हुक जैसे शॉट खेलकर आउट हो रहे हैं

गावस्कर ने लिखा, “पुजारा, जिसका दिमाग लगातार स्कोरिंग रेट के बारे में बताए जाने की वजह से खराब हो गया है, वो हुक शॉट मानकर लंच से पहले डीप स्क्वायर पर कैच आउट हो गया। वो उसका स्वाभाविक शॉट नहीं है। इससे देखकर पता चलता है कि जब आप 4,000 से ज्यादा रन बना चुके किसी बल्लेबाज को उसका रवैया बदलने के लिए कहते हैं तो क्या होता है। क्रीज पर टिकना पुजारा की ताकत है। ताकि उसके साथ खड़ा दूसरा बल्लेबाज शॉट खेल सके।”

पुजारा अब तक इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की तीन पारियों में 32 रन बनाए हैं। लॉर्ड्स टेस्ट में बल्लेबाजों के लिए हालात काफी मुश्किल थे, हालांकि नॉटिंघम में स्थितियां बल्लेबाजों के पक्ष में थी। लेकिन पुजारा अच्छी शुरुआत के बाद अपने खेल से विपरीत शॉट खेलकर आउट हो गए।