© Getty Images (Represenational Image)
© Getty Images (Represenational Image)

इस रविवार को जब जेएलटी वनडे कप में न्यू साउथ वेल्स की टीम क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलने के लिए उतरेगी तो इतिहास रच जाएगा। इस मैच के साथ महिला अंपायर क्लैरी पोलोस्क अपना लिस्ट ए डेब्यू करेंगी। इस तरह से पोलोस्क ऑस्ट्रेलिया में पुरुष घरेलू क्रिकेट में अंपायरिंग करने वाली पहली महिला अंपायर बन जाएगी। पोलोस्क 2015-16 सीजन से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के डेवलपमेंट अंपायर पैनल की सदस्य हैं। साल 2015 के मेटाडोर कप के दौरान पोलस्क थर्ड अंपायर रही थीं। इसके अलावा वह इस साल आयोजित किए गए महिला वर्ल्ड कप और महिला वर्ल्ड टी20 में भी अंपायरिंग कर चुकी हैं।

पिछले साल गर्मियों में वह ऑस्ट्रेलिया के महिला घरेलू क्रिकेट के फाइनल मैच में अंपायर रही थीं और यह भूमिका निभाने वाली वह पहली महिला अंपायर बनी थी। इस दौरान उन्होंने विमन्स नेशनल क्रिकेट लीग डिसाइडर को आधिकारिक रूप से भी संभाला था। वह साल 2015 से क्रिकेट न्यू साउथ वेल्स के साथ उसकी अंपायर एजुकेटर और महिला अंपायर एंगेजमेंट ऑफिसर के रूप में कार्य कर रही हैं।

[ये भी पढ़ें: कटरीना कैफ बनेंगी ‘कपिल देव’ की पत्नी?]

पोलोस्क ने एक रिलीज में कहा, “जब मैं 16 साल की थी और तब आप मुझसे पूछते कि क्या ऐसा होगा तो मैं जरूर कहती कि मैंने इसके बारे में नहीं सोचा। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं पुरुषों के घरेलू मैच में अंपायरिंग करूंगी। इस मौके का मिलना बेहतरीन है। जैसा कि न्यू साउथ वेल्स के साथ मेरी भूमिका फीमेल अंपायर इंगेजमेंट के तौर पर थी, तो मुझे ऐहसास है कि जो मैं कर सकती हूं वह अन्य महिलाओं के लिए बहुत महत्वपू्र्ण हो सकता है।”

उन्होंने आगे कहा, “हमें गेम के सभी स्तरों में ज्यादा महिला अंपायरों की जरूरत है, क्योंकि इससे अन्य लोगों को पता चलेगा कि यहां भी एक रास्ता है जिसपर चला जा सकता है। उम्मीद करते हैं कि अन्य महिला अंपायरों को इस बात का ऐहसास होगा कि टॉप स्तर पर अंपायरिंग की जा सकती है और वे उस जगह अंपायरिंग कर सकती हैं।”