COA may take stringent action against top three BCCI office bearers
Vinod Rai © AFP

प्रशासकों की समिति (सीओए) बुधवार को मुंबई में बैठक कई मुद्दों पर चर्चा करेगी। उम्मीद जताई जा रही है  कि मीटिंग के दौरान तीन मौजूदा वरिष्‍ठ पदाधिकारियों का भविष्य और इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान महिला टी20 प्रदर्शनी मैच पर चर्चा होगी।

संभावना है कि समिति अगली स्थिति रिपोर्ट पर भी चर्चा कर सकती है जिसे वह उच्चतम न्यायालय को सौंपने की योजना बना रही है। अगर समिति एक और स्थिति रिपोर्ट सौंपती है तो ये उसकी सातवीं रिपोर्ट होगी। कयासों के अनुसार सीओए तीन मुख्य पदाधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की सिफारिश कर सकती है जिसमें कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना, कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी और कार्यवाहक कोषाध्यक्ष अनिरूद्ध चौधरी शामिल हैं।

कर्नाटक के मयंक अग्रवाल बने घरेलू सीजन में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी
कर्नाटक के मयंक अग्रवाल बने घरेलू सीजन में सबसे ज्‍यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया, ‘‘संभावना है कि सीओए तीनों को उनके पद से हटाने की सिफारिश करे क्योंकि ये सभी तीन साल का अपना कार्यकाल पूरा कर चुके हैं। सीओए और पदाधिकारियों के बीच पिछले कुछ समय में काम करने के दौरान रिश्तों में काफी दरार आ गई है। अब इनके बीच बिलकुल भी आपसी विश्वास और सम्मान नहीं बचा है।’’

पता चला है कि क्रिकेट संचालन महाप्रबंधक सबा करीम, आईपीएल सीओओ हेमंग अमीन और सीएफओ संतोष रांगनेकर को भी आईपीएल टीम मालिकों की वित्तीय कार्यशाला और अन्य रूपरेखा पर चर्चा के लिए बैठक में हिस्सा लेने को कहा जा सकता है। प्रशासकों की समिति का गठन सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर किया गया था। बीसीसीआई द्वारा लोढा समिति की सिफारिशों को नहीं लागू करने पर सुप्रीम कोर्ट ने कड़ा रुख अख्तियार किया था। पूर्व आइएएस अधिकारी विनोद राय को सीओए का प्रमुख बनाया गया था।