COA New Instructions on Appointment of Election Officers
Vinod Rai @AFP

प्रशासकों की समिति (सीओए) ने बीसीसीआई राज्य इकाइयों के चुनाव के लिए निर्वाचन अधिकारियों की नियुक्ति करने के लिए पात्रता मानदंड के संबंध में गुरुवार को स्पष्टीकरण जारी किया।

पढ़ें: आईसीसी अध्यक्ष मनोहर को आम्रपाली से मिला विवादास्पद भुगतान

निर्वाचन अधिकारियों की नियुक्ति की मूल समय-सीमा एक जुलाई थी लेकिन सीओए ने इसे 25 जुलाई तक बढ़ा दिया था। राज्य संघों के चुनाव 14 सितंबर से पहले करवाना अनिवार्य है।

सीओए ने बयान में कहा, ‘यह स्पष्ट किया जाता है कि पूर्व संयुक्त या अतिरिक्त मुख्य चुनाव आयुक्त और राज्यों के संयुक्त या अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी सदस्य संघों के निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किए जाने के पात्र नहीं होंगे।’

बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा कि अभी 20 राज्य इकाइयां निर्वाचन अधिकारी नियुक्त करने की प्रक्रिया में है। जो इकाइयां ऐसा करने में नाकाम रहती है उन्हें 22 अक्टूबर को होने वाली बीसीसीआई एजीएम में मतदान करने से रोका जाएगा।

उन्होंने कहा, ‘प्रशासकों की समिति को पता चला कि कुछ राज्य संघों को पूर्व में जारी शर्तों के अनुरूप निर्वाचन अधिकारी नियुक्त करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि सभी राज्यों में राज्य चुनाव आयोग गठित नहीं किया गया है।’

पढ़ें: मलिंगा ने युवा खिलाड़ियों से खुद को साबित करने की अपील की

अधिकारी ने कहा, ‘सदस्य संघों को निर्वाचन अधिकारी नियुक्त करने के लिए किसी तरह की परेशानी न हो यह सुनिश्चित करने के लिये सीओए को लगा कि निर्देश जारी करना जरूरी है।’

राज्य इकाइयां अब भारत के पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त या भारतीय चुनाव आयोग के पूर्व सदस्य या राज्यों के पूर्व चुनाव आयुक्त में से किसी को भी चुनाव अधिकारी नियुक्त कर सकते हैं।

अगर इन तीनों में से कोई भी उपलब्ध न हो तो पड़ोसी राज्य या राज्यों के पूर्व चुनाव आयुक्त या राज्य के पूर्व निर्वाचन अधिकारी को नियुक्त किया जा सकता है।