COVID-19: Cricket behind closed doors fine as long as safety is assured; Says Azhar Ali
Azhar Ali @Ians

पाकिस्तान टेस्ट टीम के कप्तान अजहर अली ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ती है तो खाली स्टेडियम में क्रिकेट खेला जाना चाहिए। अजहर ने साथ ही कहा कि लोगों की स्वास्थ्य एवं सुरक्षा से समझौता नहीं किया जा सकता है।

पूर्व ICC एलीट अंपायर ने कहा- बॉल टैंपरिंग विवाद से पहले नियंत्रण से बाहर थे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर

वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए पत्रकारों से अजहर ने कहा, ‘ऐसे समय में जब टीवी पर कुछ नहीं चल रहा है, दुनिया में कहीं भी कोई भी खेल नहीं हो रहा है तो लोग इस बात से खुश होंगे कि उन्हें कुछ तो देखने को मिलेगा। लेकिन इसके लिए लोगों के जीवन और उनके स्वास्थ्य से कोई समझौता नहीं किया जा सकता है। हम धीरे-धीरे क्रिकेट की शुरुआत कर सकते हैं। लेकिन अभी नहीं।’

यह पूछे जाने पर कि क्या विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को अभी रोक देनी चाहिए और इससे टेस्ट पर क्या प्रभाव पड़ेगा, पाकिस्तानी टेस्ट कप्तान ने कहा, ‘मुझे लगता है कि सभी टीमों को सभी मैच खेलने का समय मिलेगा। अगर समय पर मैच खत्म नहीं होता है तो इसे आगे बढ़ाया जाना चाहिए।’

Covid-19: लॉकडाउन में अपने खिलाड़ियों का ऑनलाइन टेस्ट कुछ इस तरह से करेगा PCB

अजहर ने कोच और मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह उल हक के साथ अपने संबंधों के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘हममें ज्यादा असहमति नहीं है। मैं उनकी कप्तानी में काफी खेल चुका हूं और इससे मुझे काफी मदद मिली है। हम दोनों अच्छे से एक दूसरे को समझते हैं।’

कप्तान ने हाल में अपने खराब फॉर्म की वजह अपने घुटने की चोट को बताया और साथ ही कहा कि वनडे क्रिकेट ज्यादा न खेलना भी एक वजह है।