कोविड-19 (Covid-19) वैश्विक महामारी के कारण इस समय दुनिया की लगभग सभी खेल प्रतियोगिताएं अनिश्चितकाल के लिए टाल दी गई हैं. भारत में इस समय 21 दिन का लॉकडाउन घोषित है. सभी खिलाड़ी अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं. घर में रहकर खिलाड़ी अलग-अलग तरीकों से खुद को व्यस्त रखने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि इस दौरान वे सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस से संवाद कर रहे हैं.

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की अनुभवी ओपनर स्मृति मंधाना  (Smriti Mandhana) ने सोमवार को बताया किया कि लॉकडाउन के बीच घर में वह किस तरह खुद को व्यस्त रख रही हैं.

23 वर्षीय मंधाना ने अपने परिवार के साथ समय बिताने का लुत्फ उठा रही हैं और इस दौरान खाना बनाने में हाथ आजमाने के अलावा वह घर के अन्य कामों में भी मदद कर रही हैं.

‘वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ सकती हैं स्मृति मंधाना’

बकौल मंधाना, ‘मैं खाना बनाने में मां की मदद कर रही हूं. बर्तन साफ करना मेरी दिनचर्या का हिस्सा बन गया है और इसके अलावा मुझे अपने भाई को परेशान करना भी पसंद है. समय बिताने के लिए यह मेरा पसंदीदा काम है. मुझे फिल्में देखना अच्छा लगता है. मैं फिल्मों की बड़ी प्रशंसक हूं. मैं सुनिश्चित करती हूं कि मैं हफ्ते में दो से तीन फिल्म देखूं, काफी अधिक नहीं क्योंकि मैं नहीं चाहती कि मैं इसकी आदी हो जाऊं. मैं अपने परिवार के साथ समय बिताना चाहती हूं.’

वर्ल्ड रैंकिंग में चौथे नंबर पर काबिज मंधाना ने साथ ही कहा कि उन्हें घंटों सोते रहना सबसे अधिक पसंद है. उन्होंने कहा, ‘घर में जो चीज मुझे सबसे अधिक पसंद है वह सोना है. मैं सुनिश्चित करती हूं कि मैं कम से कम 10 घंटे सोती रहूं जिससे कि पूरे दिन खुश रहूं.’ मंधाना ने कहा कि वह इस समय ऑनलाइन लूडो खेलकर एक-दूसरे से जुड़ी हुई हैं.

शेफाली वर्मा के साथ ओपनिंग को लेकर स्मृति मंधाना ने दिया बड़ा बयान

बीसीसीआई ने सोमवार को मंधाना का वीडियो ट्वीट किया जिसमें वह बता रही हैं कि वह मैदान के बाहर समय कैसे बिता रही हैं. मंधाना ने कहा, ‘हम सभी दोस्त एक साथ ऑनलाइन लूडो खेलते हैं जिससे हम सभी आपस में जुड़े रहते हैं, टीम के सभी साथी.’ अन्य खिलाड़ियों की तरह यह दिग्गज बल्लेबाज भी शारीरिक रूप से फिट रहने के लिए घर में ही ‘वर्कआउट’ कर रही हैं.

बकौल मंधाना, ‘फिट रहना महत्वपूर्ण है इसलिए मैं घर पर ही वर्कआउट कर रही हूं. मैं ट्रेनर के संपर्क में रहती हूं. वह हमें वे सभी वर्कआउट भेजते हैं जो फिट रहने के लिए हमें करने की जरूरत है.’

गौरतलब है कि कोरोनावायरस संक्रमण से देश में अब तक 300 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि इससे संक्रमित मरीजों की संख्या 9 हजार के आंकड़े को पार कर गया है.