कोरोनावायरस महामारी को नियंत्रित करने के लिए भारत में इनदिनों 21 दिन का लॉकडाउन है. भारत सरकार ने देशवासियों से अपने घरों में रहने की अपील की है. सरकार का कहना है कि लोग अपने घरों में रहे ताकि इस महामारी के बढ़ते चेन को तोड़ा जा सके. भारत में कोविड-19 से अब तक 700 से अधिक लोग संक्रमित हैं जबकि इससे मरने वालों की संख्या 17 पहुंच गई है.

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने केंद्र सरकार द्वारा लगए गए लॉकडाउन को लेकर देश के नागरिकों से अपील की है कि वह इस दौरान अपने घरों में ही रहें और लाकडाउन का पालन करें. कोहली ने साथ ही लोगों से स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह मानने की भी अपील की है.

सचिन तेंदुलकर ने COVID-19 संक्रमित मरीजों को हीन भावना से नहीं देखेे जाने की अपील की

कोहली ने सोशल मीडिया टिवटर पर पर जारी एक वीडियो संदेश में कहा, ‘मैं विराट कोहली आज आपसे एक खिलाड़ी नहीं बल्कि एक भारतीय होने के नाते बात कर रहा हूं. जो कुछ मैंने बीते कुछ दिनों में देखा. लोगों की भीड़, सड़क पर घूमते लोग. कर्फ्यू का पालन ना करना, लॉकडाउन का पालन ना करना. यह देखकर मुझे लगा कि हम इस लड़ाई को बहुत ही साधारण तरीके से देख रहे हैं.’

बकौल कोहली, ‘यह लड़ाई उतनी साधारण नहीं है, जितनी दिखती है. इसलिए मेरी आज आप सभी से यही विनती है कि आप सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें. सरकार ने हमें जो भी दिशा-निर्देश दिए हैं उसे पूरी ईमानदारी से मानें. यह सोचें कि अगर आपकी लापरवाही से आपके परिवार में किसी को यह बीमारी हो जाए तो आपको कैसा महसूस होगा. इसलिए हमारी सरकार, हमारे स्वास्थ विशेषज्ञ इसके लिए काफी मेहनत कर रहे हैं, लेकिन यह चीजें तभी सफल हो पाएंगी जब हम भारतीय नागरिक होकर अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे. मस्ती मजाक करने के लिए सड़कों पर निकलना, इस स्थिति का फायदा उठाना मेरे लिए यह अपने देश से ईमानदारी नहीं है. मैं आप लोगों के साथ मिलकर यह चीज ठीक होते देखना चाहता हूं और आपसे अपील करता हूं कि आप सरकार के आदेशों का पालन करें.’

सहवाग ने Self-isolation की फोटो शेयर की, बोले-इन्हीं की बंधक हैं, दिल में ठंडक है

पूरी दुनिया इस वायरस के चपेट में है. दुनिया में अब तक इस संक्रमण से लगभग 20 हजार से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 5 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हैं.