covid scare for pv sindhu upon arrival in birmingham in cwg 2022

बर्मिंगम: कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 की शुरुआत से पहले भारतीय खेमे से एक बड़ी खबर आई है। स्टार शटलर और गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी में भारतीय दल की ध्वजवाहक पीवी सिंधु को कोविड होने का अंदेशा हुआ था। बर्मिंगम में पहुंचने के बाद सिंधु को कोविड होने की आशंका जताई गई। गोल्ड मेडल की प्रबल दावेदार सिंधु का बर्मिंगम में आरटी-पीसीआर टेस्ट हुआ जिसमें कुछ गड़बड़ दिखाई दी। इसके बाद अधिकारियों ने उन्हें आइसोलेशन पर भेज दिया।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक सिंधु का आरटी-पीसीआर टेस्ट से उम्मीद के मुताबिक नतीजे नहीं आए। जब तक कोई स्पष्टता नहीं हो गई तब तक बैडमिंटन स्टार से आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई।

रिपोर्टस के मुताबिक सिंधु के अनिवार्य कोविड-19 टेस्ट में कुछ ‘अपरिवर्तनशीलता’ नजर आई। सिंधु 25 जुलाई की सुबह बर्मिंगम पहुंची थीं। अधिकारी इस गड़बड़ को नजरअंदाज नहीं कर सकते थे और उन्होंने भारतीय शटलर को निगरानी में रखने का फैसला लिया।

जब तक सिंधु का दूसरा आरटी पीसीआर टेस्ट नेगेटिव नहीं आता उन्हें बाकी भारतीय दल से अलग रखा गया। सुकून की बात यह रही कि सिंधु का दूसरा टेस्ट नेगेटिव आया, देशभर के खेल प्रेमियों के लिए राहत की बात यह रही कि इस बार उनका टेस्ट नेगेटिव आया। भारत के ध्वजवाहक के नाम की घोषणा में हुई देरी की वजह भी सिंधु का केस ही रहा।

इन राष्ट्रमंडल खेलों में कुल 10 बैडमिंटन खिलाड़ियों का दल भेजा है। इस खेल में भारत को कई पदकों की उम्मीद है।

बर्मिंगम राष्ट्रमंडल खेलों के नियमों के मुताबिक एथलीट को यूनाटेड किंगडम में पहुंचने से 72 घंटे पहले नेगेटिव आरटी-पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट देनी होगी। इसके बाद यूके पहुंचने के बाद दोबारा उनकी जांच की जाएगी।