Cricket Australia axed batting coach Graeme Hick in coronavirus cull

ऑस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने खुलासा किया कि गुरुवार को कोरोनावायरस की वजह से हुए आर्थिक नुकसान की भरपाई के लिए नौकरी से निकाले गए 40 लोगों में बल्लेबाजी कोच ग्रिम हिक भी शामिल थे। लैंगर के मुताबिक हिक को इस बारे में बताना ‘बिना हेलमेट और बॉक्स के कर्टली एंब्रोस और कर्टनी वॉल्श’ का सामना करने जैसा था।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बुधवार को मुख्य कार्यकारी अधिकारी केविन रॉबर्ट्स के इस्तीफा देने के एक दिन बाद इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज को भी नौकरी से निकाला। लैंगर ने कहा कि हिक को ये खबर देने दिल तोड़ने वाला था।

कोच ने कहा, “आपको ग्रिम हिक से ज्यादा अखंडता वाला शख्स नहीं मिलेगा। उनका काम करने का अनुशासन अविश्वसनीय है, खेल के प्रति उनका ज्ञान अविश्वसनीय है, इसलिए ये फैसला करना बेहद कठिन था। ये ऐसा कुछ भी नहीं है जो उसने किया है, ये लागत में कटौती के प्रभाव का असर है जो हम COVID स्थिति के कारण झेल रहे हैं।”

इंग्लैंड दौरे पर सर डेसमंड की सलाह इस्तेमाल करने को उत्सुक हैं ब्रैथवेट

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस वित्तीय वर्ष में 40 मिलियन बचाने के लिए 15 प्रतिशत स्टाफ को नौकरी से निकाला। लैंगर ने कहा कि कटौती से राष्ट्रीय टीम पर भी असर पड़ेगा। हिक को खोने के साथ विदेशी दौरों पर दूसरे चयनकर्ता को यात्रा करवाने भी संभव नहीं होगा। लैंगर, ट्रैवर हॉन्स और जॉर्ज बेली को ही चयनसमिति पैनल बनाना होगा।

लैंगर ने कहा, “मुझे लगता है कि वास्तव में काम करने के लिए और अधिक गहन बातचीत करनी होगी कि ये कैसे काम करने वाला है। हम अपने साथ दौरे पर कम लोगों को ले जाएंगे लेकिन खिलाड़ियों को फिर भी समर्थन मिलेगा। हम थोड़े कम होंगे ये निश्चित है लेकिन हम अपने आपको ढालेंगे और खिलाड़ियों को सभी जरूरी सर्विस मिलेंगी।”