बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ‘4 देशों की सुपर सीरीज’ कराने की योजना बना रहे हैं. गांगुली चाहते हैं कि इस सीरीज वर्ल्ड की 4 दिग्गज टीमें शामिल हों. भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के अलावा इसमें रैंकिंग के हिसाब से सर्वश्रेष्ठ टीम को जगह मिल जाएगा.

अंडर-19 वर्ल्ड कप में हिस्सा लेने वाली भारतीय टीम के बारे में रोहित शर्मा ने दिया बड़ा बयान, बोले…

‘दादा’ के इस सुझाव की क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के मुख्य कार्यकारी केविन रॉबटर्स ने तारीफ की लेकिन उन्होंने कोई वादा नहीं किया.

गांगुली ने कहा था कि भारत 2021 से शुरू हो रही सालाना वनडे सीरीज में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और एक अन्य शीर्ष टीम से खेलेगा. यह कदम हर कैलेंडर वर्ष में एक टूर्नामेंट कराने की आईसीसी की कवायद को रोकने की दिशा में माना जा रहा है.

लंदन में गांगुली के साथ बैठक के बाद इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने कहा था कि वह इस मसले पर बातचीत के लिये तैयार है. रॉबटर्स ने कहा, ‘बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली की यह अनूठी सोच है.’ उनके संक्षिप्त कार्यकाल में ही कोलकाता में दिन-रात का टेस्ट हो गया और नतीजा शानदार रहा. अब ‘सुपर सीरिज’ का प्रस्ताव भी उम्दा है.’

Year-Ender 2019 : विराट कोहली के बल्ले के आगे फीके पड़े गावस्कर, तेंदुलकर और पोंटिंग के रिकॉर्ड

सीए के सीईओ न कहा कि वह अगले महीने भारत और बांग्लादेश आकर भावी क्रिकेट कैलेंडर पर बात करेंगे. उन्होंने कहा कि वह न्यूजीलैंड और पाकिस्तान से भावी कार्यक्रम के बारे में बात कर चुके हैं.

गौरतलब है कि गांगुली के इस सुझाव को पाकिस्तान के पूर्व कप्तान राशिद लतीफ ने ‘बकवास’ बताया था.