Cricket Australia defends Coach Justin Langer’s leadership after
जस्टिन लैंगर (AFP)

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख निक हॉकले ने बुधवार को टीम के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद लगातार आलोचना के घेरे में आ रहे कोच जस्टिन लैंगर का बचाव किया।

ऑस्ट्रेलियाई मुख्य कोच को साल की शुरुआत में उनके “हेडमास्टर जैसे” नेतृत्व और बदलते मूड को लेकर आलोचना का सामना करना पड़ा था। उन्होंने आलोचना को स्वीकार किया और कहा था कि वो अपने जीवन के दौरान ज्यादातर समय “क्रूर और तीव्र” रहे हैं।

वेस्टइंडीज और बांग्लादेश के दौरे पर मिली हार के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के एक पत्रकार के साथ गरमागरम बहस की खबरों के बाद लैंगर को पिछले हफ्ते फिर से विवाद का सामना करना पड़ा।

कहा जाता है कि ये टकराव टीम होटल में हुआ था, जहां खिलाड़ी और कर्मचारी मौजूद थे। जिससे बतौर कोच उनके भविष्य को लेकर मीडिया की अटकलें तेज हो गईं हैं।

India vs England: तीसरे टेस्ट से पहले इंग्लैंड का संकट गहराया, मुख्य तेज गेंदबाज चोटिल

हॉकले ने 2018 में दक्षिण अफ्रीका में हुए “सैंडपेपर-गेट” के बाद से ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की संस्कृति के पुनर्निर्माण में लैंगर द्वारा किए गए “अविश्वसनीय काम” की प्रशंसा की।

उन्होंने एक बयान में कहा, “उनके प्रयासों ने राष्ट्रीय टीम में जनता का विश्वास बहाल किया है, जिस पर सभी ऑस्ट्रेलियाई गर्व कर सकते हैं।”

हॉकले ने लैंगर की प्रबंधन शैली को सीधे तौर पर संबोधित नहीं किया लेकिन माना कि कोविड महामारी के बीच लगातार 18 महीनें खेलना बेहद चुनौतीपूर्ण रहा।

उन्होंने कहा, “उन चुनौतियों के बावजूद टीम को वनडे, टेस्ट और टी20 क्रिकेट में बड़ी सफलता मिली है, जब सभी खिलाड़ी उपलब्ध थे।जस्टिन, उनके कोचिंग स्टाफ और टीम के लीडर्स की ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के लिए एक सफल सीजन सुनिश्चित करने के लिए समान रूप से महत्वपूर्ण भूमिका है।”

T20 World Cup 2021 की तैयारियों में जुटे हैं Steve Smith और Aaron Finch

इस हफ्ते की शुरुआत में, लैंगर के दोस्त और टीम के पूर्व साथी एडम गिलक्रिस्ट ने कहा कि उनकी स्थिति के बारे में बढ़ती अटकलें “क्रिकेट सीजन को पटरी से उतार सकती हैं”। साथ ही क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से मीडिया में हो रही लीक को रोकने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा, “बड़ा मुद्दा ये है कि इन पत्रकारों का ड्रेसिंग रूम के अंदर के लोगों से सीधा संपर्क होता है और अंदर के लोग खबरों को बाहर निकलने देने में खुश होते हैं।”