आईपीएल 2017 में तीन ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी कप्तानी कर रहे हैं © Getty Images
आईपीएल 2017 में तीन ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी कप्तानी कर रहे हैं © Getty Images

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने खिलाड़ियों को आईपीएल से दूर रखने के लिये उन्हें लुभावने करार की पेशकश की है। सिडनी मार्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि सीए के कार्यकारी महाप्रबंधक पैट हावर्ड ने ऐसे समय पर यह पेशकश की है जब ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स संघ की नये भुगतान करार को लेकर सीए से ठनी हुई है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अपने खिलाड़ियों को फिट रखने के लिए अप्रैल मई में आराम देना चाहता है जबकि वह जानते हैं कि आईपीएल उसी दौरान खेला जाता है।

हालांकि टेस्ट कप्तान स्टीवन स्मिथ, उपकप्तान डेविड वार्नर, तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क, जॉश हेजलवुड और पैट कमिंस इस पेशकश को लेकर उत्साहित नहीं है। सीए को खिलाड़ियों को इस करार पर राजी करने के लिये मोटा भुगतान करना होगा क्योंकि स्मिथ और वार्नर जैसे खिलाड़ी आईपीएल से सालाना 10 लाख डालर से ज्यादा कमाते हैं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया द्वारा वार्नर को दी गई रिटेनर फीस केवल 20 लाख डॉलर है लेकिन आईपीएल में अगले तीन साल में ही वह एक करोड़ डॉलर कमा सकते हैं। [ये भी पढ़ें: तो आईपीएल में नहीं खेलेंगे साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी!]

स्मिथ जिन्हें इस सीजन में राइजिंग पुणे सुपरजायंट का कप्तान बनाया गया है काफी अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं। वहीं सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर भी धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए आरेंज कैप पर कब्जा किए हुए हैं। साथ ही ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने भी इस सीजन बढ़िया प्रदर्शन किया है। आईपीएल से इन खिलाड़ियों को केवल मोटा पैसा ही नहीं मिलता बल्कि विदेशी खिलाड़ियों को भारत की पिचों पर अपने खेल को बेहतर बनाने का मौका भी मिलता है। हाल ही में साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड ने भी अपने खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने की अनुमति देने के लिए बीसीसीआई के सामने शर्त रखी है।