Cricket is set to return to Asian Games in 2022: Reports
Team India © AFP

हांगझू एशियाई खेल 2022 के खेल कार्यक्रम में क्रिकेट को शामिल किए जाने के बाद से इस खेल की महाद्वीपीय खेलों में वापसी होने की संभावना बढ़ गई है। ‘इनसाइडदगेम्स.बिज’ खेल वेबसाइट के अनुसार एशियाई ओलंपिक परिषद (ओसीए) की आम सभा की बैठक में ये फैसला किया गया।

क्रिकेट को 2010 और 2014 एशियाई खेलों में जगह मिली थी लेकिन इंडोनेशिया में 2018 में हुए खेलों से इसे हटा दिया गया। पूरी संभावना है कि अगर क्रिकेट को जगह मिलती है तो 2010 में ग्वांग्झू और 2014 में इंचियोन खेलों की तरह 2022 में भी टी20 फॉर्मेट को ही शामिल किया जाएगा। भारत इससे पहले टीम के व्यस्त कार्यक्रम का हवाला देकर इस महाद्वीपीय प्रतियोगिता से बाहर रह चुका है।

ये भी पढ़ें: ICC ने ठुकराया BCCI का प्रस्‍ताव, ‘देशों से क्रिकेट रिश्ते तोड़ना दायरे में बाहर’

एशियाई खेलों के अगले टूर्नामेंट के आयोजन में अब भी काफी समय है और ऐसे में भारतीय टीम के प्रतिनिधित्व पर चर्चा करने के लिए बीसीसीआई को काफी समय मिलेगा। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘‘2022 एशियाई खेलों के लिए अभी काफी समय है। समय आने पर हम चर्चा करेंगे और फैसला लेंगे।’’ क्रिकेट को 2022 खेलों में जगह देना उम्मीद के मुताबिक है क्योंकि ओसीए के मानद उपाध्यक्ष रणधीर सिंह ने उपयुक्त वेन्यू चुनने के लिए पिछले महीने हांगझू का दौरा किया था।

श्रीलंका और पाकिस्तान ने 2014 में क्रमश: पुरुष और महिला वर्ग में स्वर्ण पदक जीते थे जबकि 2010 में बांग्लादेश और पाकिस्तान ने बाजी मारी थी। राष्ट्रमंडल खेल 1998 में भी क्रिकेट को शामिल किया गया था और तब भारत ने भी अपनी टीम भेजी थी। तब शॉन पोलाक की अगुआई वाली दक्षिण अफ्रीकी टीम ने स्टीव वॉ की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम को हराकर स्वर्ण पदक जीता था।

ये भी पढ़ें: गेंदबाजों के लिए मुश्किल पिच पर टीम के प्रदर्शन से खुश हैं कप्तान केन विलियमसन

रविवार को ओसीए की आम सभा में हुए दूसरे महत्वपूर्ण फैसलों के अनुसार घोषणा की गई कि ऑस्ट्रेलिया सहित ओसियाना देशों को 2022 एशियाई खेलों में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। हालांकि ये फैसला बाद में किया जाएगा कि ओसियाना के कितने खिलाड़ियों को हांगझू में हिस्सा लेने की स्वीकृति दी जाएगी।